PM मोदी के J&K दौरे से पहले अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक नजरबंद

पीएम मोदी रविवार को जम्मू-कश्मीर के सभी तीनों क्षेत्रों का दौरा करेंगे. इस दौरान वह कई परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे. 

PM मोदी के J&K दौरे से पहले अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक नजरबंद
मीरवाइज ने ट्विटर पर कहा कि प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर सरकार बौखला गई है. फोटो साभार- @MirwaizKashmir

श्रीनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जम्मू-कश्मीर दौरे से एक दिन पहले शनिवार को हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के उदारवादी धड़े के नेता मीरवाइज उमर फारूक को नजरबंद कर दिया गया. अधिकारियों ने बताया कि अलगाववादियों के रविवार (03 फरवरी) को बंद का आह्वान करने के बाद कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को बनाये रखने के लिए मीरवाइज को नजरबंद किया गया है.

शहर के निगीन इलाके में स्थित उनके आवास के बाहर मुख्य द्वार पर पुलिस के एक दल को भी तैनात किया गया है. मीरवाइज ने ट्विटर पर कहा कि प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर सरकार बौखला गई है. उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के दौरे से पहले राज्य प्रशासन का ‘पैनिक’ बटन दब गया है. तलाशी अभियान तेज कर दिए गए हैं और लाल चौक पर भी घेराबंदी की गई. आज सुबह मुझे भी नजरबंद कर दिया गया.

आपको बता दें कि पीएम मोदी रविवार को राज्य के सभी तीनों क्षेत्रों का दौरा करेंगे. इस दौरान वह कई परियोजनाओं की आधारशिला भी रखेंगे. 

 

माना जा रहा है कि गुरुवार को पाकिस्तान की नई सरकार ने हुर्रियत नेता से संपर्क करने की कोशिश की थी. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने मीरवाइज को जम्मू-कश्मीर में 'पाकिस्तान के सरकार के सकल मानव अधिकारों के उल्लंघन को उजागर करने के प्रयासों' पर जानकारी देने के लिए पिछले मंगलवार को फोन किया था. इसके बाद भारत ने इस असामान्य कदम पर पाकिस्तान के दूत को यह कहते हुए तलब किया था कि इस तरह की कार्रवाई भारत के आंतरिक मामलों में एक 'प्रत्यक्ष हस्तक्षेप' है.