मोदी, उपराष्ट्रपति, सोनिया ने लक्ष्मण के निधन पर जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महान कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण को सोमवार को श्रद्धांजलि अर्पित की।

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महान कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण को सोमवार को श्रद्धांजलि अर्पित की।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्विट किया, ‘‘उस महान हस्ती के परिवार और उनके बेशुमार शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदना जिनके चले जाने से हमारे जीवन में एक बड़ा खालीपन पैदा हो गया है। भगवान आर के लक्ष्मण की आत्मा को शांति दे।’’ अपने संवेदना संदेश में अंसारी ने कहा, ‘‘कामन मैन ’’ के जनक के रूप में पहचाने जाने वाले लक्ष्मण ने अपने हास्य और सामाजिक रूप से प्रासंगिक संदेशों के जरिए लाखों देशवासियों की जिंदगी को छुआ।

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं लक्ष्मण के निधन से बेहद दुखी हूं... हालिया समय में हमारे देश के सबसे प्रख्यात कार्टूनिस्ट ।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मैं शोक संतप्त परिवार के प्रति हार्दिक संवदेना व्यक्त करता हूं । मैं अल्लाताला से उनके परिवार को इस क्षति को सहन करने की ताकत प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं ।’’ अपने संदेश में सोनिया गांधी ने लक्ष्मण के निधन पर ‘‘गहरा शोक’’ जताया।

उनके निधन को एक संस्थान की समाप्ति करार देते हुए उन्होंने कहा कि लक्ष्मण के ‘कामन मैन ’ ने एक से अधिक पीढ़ियों तक भारत का प्रतिनिधित्व किया ।

सोनिया ने कहा, ‘‘ लक्ष्मण एक बड़ी बौद्धिक हस्ती थे जिन्हें आने वाले दशकों तक याद किया जाएगा और जो बहुत लोगों के लिए प्रेरणास्रोत बने रहेंगे।’’ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लक्ष्मण के निधन पर कहा, ‘‘ अपने कार्टून के जरिए उन्होंने समाज को आईना दिखाया... जिसने आम आदमी की चिंता को सामने रखते हुए हमें खुद पर हंसाया । ’’ पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा, ‘‘ जिस इंसान ने हमें हंसाया , वह हमें रोता छोड़ गया।’’

जावडेकर ने ट्वीट किया, ‘‘महान कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण को हमेशा उनके हल्के फुल्के हास्य के लिए याद किया जाएगा। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे ।’’ कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हेंडल पर लिखा, ‘‘ हमें भारत के महान कार्टूनिस्टों में से एक आर के लक्ष्मण के निधन का दुख है । उनके परिजनों को हमारी गहरी संवेदना।’’ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी लक्ष्मण के निधन पर शोक जताया।

उमर ने ट्विट किया, ‘‘भारत ने अपने खास आम आदमी को खो दिया। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे ।’’ अपने संदेश में ममता बनर्जी ने कहा, ‘‘ यह सुनकर बेहद दुख हुआ कि महान कार्टूनिस्ट आर के लक्ष्मण कुछ ही समय पहले गुजर गए। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।’’ जनता दल यू प्रमुख शरद यादव ने कहा कि लक्ष्मण ने अपने कार्टूनों के जरिए आम आदमी की पीड़ाओं को आवाज दी। उन्होंने साथ ही कहा कि लक्ष्मण ने सामाजिक बुराइयों तथा राजनीतिक विचारधारा के बीच के मतभेदों को बड़ी प्रखरता से निशाना बनाया और लोगों के बीच जागरूकता फैलायी।

लक्ष्मण ने आज शाम पुणे के एक अस्पताल में लंबी बीमारी के बाद अंतिम सांस ली। वह 94 साल के थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी कमला तथा बेटा श्रीनिवास है जो पेशे से पत्रकार रहे हैं।