MP महिला शिक्षक हत्याकांड: पत्नी से छुटकारा पाने के लिए फौजी पति ने की थी हत्या

सोनू ने तलाक का फैसला आये बगैर सितंबर में जबलपुर की एक युवती से सगाई भी कर ली है. यह बात आरोपी ने पूछताछ में कबूला है. 

MP महिला शिक्षक हत्याकांड: पत्नी से छुटकारा पाने के लिए फौजी पति ने की थी हत्या
सोनू असम राइफल्स में लांस नायक के पद पर है और दो फरवरी से 24 फरवरी तक छुट्टी पर आया हुआ था.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खंडवा (मप्र): जिले के नये हरसूद में 19 फरवरी को 30 वर्षीय महिला अतिथि शिक्षक की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या करने के मामले में उसके 38 वर्षीय फौजी पति को गिरफ्तार किया. पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने बताया कि अतिथि शिक्षक कीर्ति माली की हत्या के मामले में उसके फौजी पति लांस नायक गजानन उर्फ सोनू सैनी को 23 फरवरी को भोपाल के पास बैरागढ़ के सैन्य अस्पताल से गिरफ्तार किया गया. उसे खंडवा लाया गया और कल यानि 24 फरवरी को नया हरसूद अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है.

सोनू असम राइफल्स में लांस नायक के पद पर है
उन्होंने कहा कि सोनू असम राइफल्स में लांस नायक के पद पर है और दो फरवरी से 24 फरवरी तक छुट्टी पर आया हुआ था. उन्होंने कहा कि अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद वह बैरागढ़ (भोपाल) पहुंचकर सैन्य अस्पताल में स्वयं को घायल बताकर भर्ती हो गया था. भसीन ने बताया कि सोनू एवं कीर्ति का अदालत में तलाक का मुकदमा चल रहा है. 

यह भी पढ़ें- MP: पढ़ाने जा रही थी महिला अतिथि शिक्षक, मोटर साइकिल सवार युवकों ने मारी गोली

वह अपनी पत्नी से छुटकारा पाना चाहता है. इसलिए उसने उसकी हत्या कर दी. सोनू ने तलाक का फैसला आये बगैर सितंबर में जबलपुर की एक युवती से सगाई भी कर ली है. यह बात आरोपी ने पूछताछ में कबूला है. उन्होंने कहा कि कीर्ति खंडवा शहर के रामनगर की रहने वाली थी और पॉलिटेक्निक कॉलेज में पढ़ाने के लिए खंडवा से नया हरसूद अमूमन ट्रेन से जाया करती थीं.

खंडवा से नये हरसूद की दूरी करीब 45 किलोमीटर है. भसीन ने बताया कि आरोपी सोनू से घटना के संबंध में पूछताछ कर उसकी निशानदेही से एक पिस्टल एवं 3 जिंदा कारतूस थाना हरसूद क्षेत्रांतर्गत सुनसान इलाके से जब्त किये हैं. उन्होंने कहा कि हत्या के इस मामले में दो और लोगों की तलाश जारी है, जिनमें से एक सेना का जवान है. उन्होंने कहा कि इस संबंध में सोनू के खिलाफ भादंवि की धारा 302 (हत्या) एवं आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर बंदी बना लिया गया है. 

इनपुट भाषा से भी