close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में जुटे अंबानी, रतन टाटा समेत कई अन्य दिग्गज

शपथ ग्रहण समारोह में टाटा और चंद्रशेखरन सबसे पहले पहुंचने वालों में रहे. जब अन्य मेहमान आ रहे थे तो दोनों को गुफ्तगू करते देखा गया. 

PM मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में जुटे अंबानी, रतन टाटा समेत कई अन्य दिग्गज
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी मंत्रिपरिषद के शपथ ग्रहण समारोह में देश विदेश के राजनेताओं के साथ भारतीय कारोबार जगत की गणमान्य हस्तियां भी उपस्थिति थीं. राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में खुले में आयोजित इस समारोह में उद्योगपति मुकेश अंबानी, रतन टाटा, इस्पात क्षेत्र के दिग्गज प्रवासी भारतीय उद्यमी लक्ष्मी निवास मित्तन और गौतम अडाणी मौजूद भी रहे. राष्ट्रपति भवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकान्त दास, एस्सार के निदेशक प्रशांत रुइया, टाटा समूह के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन, वेदांता के चेयरमैन अनिल अग्रवाल और एचडीएफसी के दीपक पारेख भी मौजूद थे.

शपथ ग्रहण समारोह में टाटा और चंद्रशेखरन सबसे पहले पहुंचने वालों में रहे. जब अन्य मेहमान आ रहे थे तो दोनों को गुफ्तगू करते देखा गया.  उद्योगपितयों की पंक्ति में समाचार चैनल स्वामी रजत शर्मा भी थे. मोदी के दूसरे कार्यकाल के शपथ ग्रहण समारोह में रिजर्व बैंक के गवर्नर भी पहले पहुंचने वालों में रहे.

मुकेश अंबानी अपनी पत्नी नीता अंबानी और सबसे छोटे पुत्र अनंत के साथ आए थे.  वहीं उन्हीं के समूह के पूर्व कार्यकारी और राज्यसभा सदस्य परिमल नाथन अलग आए.  उद्योग जगत के दिग्गज समारोह शुरू होने से पहले अमित शाह सहित कैबिनेट मंत्रियों के साथ बातचीत करते रहे. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रधानमंत्री और मंत्रिपरिषद के सदस्यों को शपथ दिलाई.

इस समारोह में 6,000 से अधिक लोगों को आमंत्रित किया गया था. समारोह में बिम्सटेक देशों के नेताओं के साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और मुख्यमंत्रियों के साथ कॉरपोरेट जगत के लोग और बॉलीवुड की हस्तियां मौजूद थीं. इस समारोह में नीति आयोग के सदस्य रमेश चंद, भारती समूह के राकेश भारती मित्तल और राजन भारती मित्तल, आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग, सूचना प्रौद्योगिकी उद्योग की प्रमुख हस्ती एन आर नारायणमूर्ति, वीडियोकॉन के राजकुमार धूत, कल्याण ज्वेलर्स के प्रबंध निदेशक टी एस कल्याणरमन अय्यर और नेपाल के सीजी ग्रुप के चेयरमैन विनोद चौधरी भी मौजूद थे.