महाराष्ट्र में विस्फोट की साजिश: एटीएस ने गिरफ्तार तीन शख्स से संबंध को लेकर 16 लोगों से पूछताछ की

मुंबई एटीएस ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि क्या और गिरफ्तारियां होने वाली हैं.

महाराष्ट्र में विस्फोट की साजिश: एटीएस ने गिरफ्तार तीन शख्स से संबंध को लेकर 16 लोगों से पूछताछ की
सुरक्षा में तैनात मुंबई पुलिस (फाइल फोटो)

मुंबई: महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधक दस्ते (एटीएस) ने राज्य में विस्फोट को अंजाम देने की कथित साजिश के सिलसिले में गिरफ्तार तीन लोगों से संभावित संबंध होने के सिलसिले में कम से कम 16 लोगों से पूछताछ की है. एक पुलिस अधिकारी ने शनिवार को बताया कि एटीएस ने शुक्रवार को मुंबई के निकट नालासोपारा से वैभव राउत, शरद कालास्कर और पुणे से सुधन्वा गोंधालेकर को गिरफ्तार किया. राउत के आवास और दुकान पर छापेमारी के बाद एटीएस ने 20 देसी बम और बम सर्किट ड्रॉविंग समेत भारी मात्रा में विस्फोटक जब्त किए थे.

इसे भी पढ़ें: मुंबई: घर में घुसकर की महिला डॉक्टर से रेप की कोशिश, असफल हुआ तो मॉल से कूदकर की आत्महत्या

 

एटीएस प्रमुख अतुल चंद्र कुलकर्णी ने कहा कि वे इस बात की जांच करेंगे कि क्या गिरफ्तार लोगों के अंधविश्वास विरोधी कार्यकर्ताओं नरेंद्र दाभोलकर, गोविंद पानसरे और पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या से भी कोई संबंध थे.एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एटीएस ने नालासोपारा, पुणे, सतारा, सोलापुर और राज्य में अन्य जगहों पर कम से कम 16 अन्य लोगों से तीन लोगों के साथ संदिग्ध संबंधों के सिलसिले में पूछताछ की है. हालांकि, उन्होंने इस बात का खुलासा नहीं किया कि क्या और गिरफ्तारियां होने वाली हैं.

इसे भी पढ़ें: मुंबई: नालासोपाला इलाके में एटीएस का छापा, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

उन्होंने कहा कि पुलिस उनके मोबाइल फोन की जांच करके इस बात का पता लगाने की भी कोशिश कर रही है कि क्या गिरफ्तार लोग समान सोच वाले सोशल मीडिया समूहों का हिस्सा थे. उनके मोबाइल फोन विश्लेषण के लिए फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशालाओं में भेजे जाएंगे. राउत के कथित सोशल मीडिया अकाउंट में इस बात का उल्लेख था कि वह दक्षिणपंथी समूह सनातन संस्था से जुड़ा हुआ है. हालांकि, समूह ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि वह उसका सदस्य था. मुंबई की एक अदालत ने गिरफ्तार तीन लोगों को 18 अगस्त तक एटीएस की हिरासत में शुक्रवार को भेज दिया था.

(इनपुट एजेंसी से)