VIDEO: पीएम मोदी ने लोगों से मोबाइल की लाइट जलवा कर दी 'नेताजी' को श्रद्धांजलि

पीएम मोदी के अपील करते ही पूरा मरीना पार्क फ्लैशलाइट की चमक से सराबोर हो गया.

VIDEO: पीएम मोदी ने लोगों से मोबाइल की लाइट जलवा कर दी 'नेताजी' को श्रद्धांजलि
फोटो सौजन्य: ANI

पोर्ट ब्लेयर: अंडमान एवं निकोबार द्वीप पर आजाद हिंद फौज ने 1943 में तिरंगा फहराया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महान घटना के 75 साल पूरे होने के अवसर पर रविवार को अंडमान एवं निकोबार पहुंचे. पीएम मोदी ने पोर्ट ब्लेयर के मरीना पार्क में सभा को संबोधित किया. इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील करी कि वे सभी अपने मोबाइल की फ्लैशलाइट एकसाथ ऑन कर नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि दें. पीएम मोदी के अपील करते ही पूरा मरीना पार्क फ्लैशलाइट की चमक से सराबोर हो गया. इसके साथ ही लोगों ने नेताजी को श्रद्धांजलि देते हुए नारे लगाए. 

 

 

रॉस आइलैंड का नाम बदलकर हुआ नेताजी सुभाषचंद्र बोस द्वीप
मरीना पार्क में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने अंडमान एवं निकोबार के तीन द्वीपों के नाम बदलने की घोषणा की. इसमें रॉस आइलैंड का नाम बदलकर नेताजी सुभाषचंद्र बोस, नील आइलैंड का नाम शहीद द्वीप और हैवलॉक आइलैंड का नाम स्वराज द्वीप कर दिया गया. उन्होंने कहा, "आजाद हिंद फौज ने यहां 75 साल पहले तिरंगा फरहाने का साहसिक कार्य किया था. और अब मैं यहां तिरंगा फहरा कर गर्व महसूस कर रहा हूं."

नेताजी का नाम गौरव और ऊर्जा प्रदान करता है- पीएम मोदी
पीएम मोदी ने कहा कि जब आजादी के नायकों की बात आती है तो, नेताजी का नाम हमें गौरव और नई ऊर्जा से भर देता है. उन्होंने कहा कि नेताजी का ये दृढ़ विश्वास था कि एकराष्ट्र के रूप में अपनी पहचान पर बल देकर मानसिकता को बदला जा सकता है. आज मुझे प्रसन्नता है कि एक भारत, श्रेष्ठ भारत को लेकर नेताजी की भावनाओं को 130 करोड़ भारतवासी एक करने में जुटे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि यहां पानी और बिजली जैसी मूलभूत सुविधाओं को पूरा करने के लिए महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण किया गया है. अगले 20 साल में पानी की समस्या ना पैदा हो, इसके लिए धानीकारी डैम की ऊंचाई बढ़ाई जा रही है.