close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस मंत्री ने पद संभालते ही लिया संकल्प, कहा- 1 साल में पीएम मोदी की 'सबसे खास' योजना हो जाएगी पूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंत्र‍िमंडल आकार ले चुका है. प्रधानमंत्री के अलावा उनके मंत्र‍िमंडल में 57 साथी हैं. इसमें 24 कैबिनेट और 9 राज्‍यमंत्री स्‍वतंत्र प्रभार हैं.

इस मंत्री ने पद संभालते ही लिया संकल्प, कहा- 1 साल में पीएम मोदी की 'सबसे खास' योजना हो जाएगी पूरी
फोटो साभारः ANI

नई दिल्ली: नवगठित मोदी मंत्रिपरिषद में आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय की एक बार फिर जिम्मेदारी संभालने वाले राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी ने कहा है कि आवास, स्वच्छता और स्मार्ट सिटी सहित अन्य अहम शहरी विकास संबंधी परियोजनायें पहले से ही बेहतर गति से चल रही हैं. ‘स्वच्छ भारत मिशन’ आगामी दो अक्तूबर को गांधी जयंती के अवसर पर अपना निर्धारित लक्ष्य प्राप्त कर लेगा. पुरी ने शुक्रवार को मंत्रालय का कार्यभार संभालने के बाद संवाददाताओं को बताया कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर आगामी दो अक्तूबर से पहले संपूर्ण शहरी क्षेत्र को स्वच्छता मिशन के मानकों की कसौटी को पूरा करने का लक्ष्य हासिल हो जायेगा.

उल्लेखनीय है कि इस मिशन के तहत शहरी क्षेत्र को खुले में शौच की समस्या से मुक्त कर अन्य स्वच्छता मानकों को पूरा करना प्रमुख लक्ष्य है. पुरी ने कहा कि जून 2015 में शुरु की गयी प्रधानमंत्री आवास योजना के अलावा शहरी विकास से जुड़े हृदय और अमृत मिशन का काम पूर्व निर्धारित गति से चल रहा है. उन्होंने कहा कि 2022 तक एक करोड़ सस्ते आवास बना कर जरूरतमंद लोगों को आवंटित करने का लक्ष्य भी समय से पूरा होगा.

पुरी ने बताया कि मंत्रालय से अब तक 81 लाख आवास के निर्माण की मंजूरी दी जा चुकी है. उन्होंने मार्च 2020 में चालू वित्त वर्ष के अंत तक लक्ष्य के मुताबिक एक करोड़ घरों के निर्माण को मंजूरी दिये जाने और निर्धारित समय में इनका निर्माण कार्य पूरा होने का भरोसा व्यक्त किया.

पुरी ने कहा कि लगभग ढाई महीने से चुनाव आचार संहिता के लागू रहने के दौरान सभी प्रमुख परियोजनाओं के काम की एक सप्ताह में समीक्षा कर वह अगले सौ दिन के कामकाज की कार्ययोजना पेश करेंगे. हालांकि उन्होंने कहा कि मंत्रालय ने अगले सौ दिन के कामकाज का ब्योरा तैयार कर लिया है. इसकी वह समीक्षा करेंगे.

उल्लेखनीय है कि पुरी को मोदी सरकार में आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय के अलावा नागर विमानन और वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की भी बतौर राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) जिम्मेदारी सौंपी गयी है. मोदी सरकार में 2017 में शामिल किये गये पुरी भारतीय विदेश सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी है.

दूसरे कार्यकाल के लिये पुरी की चुनौती प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2022 तक एक करोड़ सस्ते आवास के निर्माण के लक्ष्य को पूरा करना, योजना के लाभार्थियों को आवास वितरण करना और स्वच्छ भारत अभियान के तहत शहरी क्षेत्रों में शौचालयों के निर्माण एवं पूरे देश को खुले में शौच की समस्या से मुक्त करना होगा. इसके अलावा स्मार्ट सिटी मिशन के तहत 100 शहरों को स्मार्ट शहर बनाने का भी अहम लक्ष्य है.