पीएम नरेंद्र मोदी ने दी राष्‍ट्र को 'सौभाग्‍य' की सौगात, जानें 5 बातें

 

पीएम नरेंद्र मोदी ने दी राष्‍ट्र को 'सौभाग्‍य' की सौगात, जानें 5 बातें
फाइल फोटो

पीएम नरेंद्र मोदी ने दीनदयाल उपाध्‍याय की जन्‍मशती पर सौभाग्‍य योजना लांच की है. बीजेपी की राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी के अंतिम दिन पीएम नरेंद्र मोदी ने सौभाग्‍य योजना को लांच किया. 25 सितंबर को जनसंघ के संस्थापक सदस्य दीनदयाल उपाध्याय की 100वीं जयंती भी है. इस संदर्भ में योजना से जुड़ी पांच बातों पर एक नजर: 

1. देश को 24 घंटे बिजली उपलब्‍ध कराने की योजना का नाम 'सौभाग्‍य' है. इस योजना का पूरा नाम सहज बिजली हर घर योजना है. 

2. इस योजना के तहत तीन करोड़ ग्रामीण घरों में बिजली पहुंचाने का प्‍लान है. ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत 1.5 करोड़ घरों तक पहले ही बिजली पहुंचाई जा चुकी है. 

पढ़ें: LIVE- पीएम मोदी ने दीन दयाल ऊर्जा भवन का किया शुभारंभ, देंगे 8 नई सौगातें 

3. दरअसल सरकार 24 घंटे सभी गांवों तक बिजली पहुंचाने के लिए तेजी से काम कर रही है और सभी को 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के लिए 2019 का टारगेट बनाया गया है. 

पढ़ें: वंशवाद कांग्रेस की संस्कृति, पॉलिटिक्स ऑफ परफॉर्मेंस में है हमारा यकीन: बीजेपी

4. सूत्रों के मुताबिक, 'सौभाग्य' योजना के तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए सरकार द्वारा सब्सिडी उपलब्‍ध कराई जाएगी. पिछले हफ्ते इस संबंध में हुई कैबिनेट मीटिंग के एजेंडे में इस योजना को शामिल किया गया था. 

5. केंद्र सरकार इस योजना के लिए 75 प्रतिशत फंड मुहैया करेगी और बाकी 25 प्रतिशत राज्‍यों या ऋण के माध्‍यम से एकत्र किया जाएगा.     

इससे पहले दिल्ली में सोमवार को बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक में पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बिना जन भागीदारी के योजनाएं सफल नहीं हो सकती. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस को पीएम के भाषण के बारे में बताया. जेटली ने कहा कि पीएम ने पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को कहा कि हमें यह तय करना है कि योजनाएं जमीन पर उतरें और लोगों को उनका लाभ मिले. 

वित्त मंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने कार्यकारिणी की बैठक में कहा कि देश ने बीजेपी को बहुत कुछ दिया अब हमारी जिम्मेदारी है. पीएम ने कहा विपक्ष के लिए सत्ता उपभोग का साधन है. लेकिन हमारे लिए सत्ता सेवा है, सुख का साधन नहीं.