नवाब मलिक का दावा, 'हमारे 54 में से केवल 4 MLA बीजेपी के साथ, जल्द उन्हें वापस लाएंगे'

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने दावा किया कि उनके पास 50 विधायकों का समर्थन है. उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके 4 विधायकों को बीजेपी ने कहीं और रखा है.

नवाब मलिक का दावा, 'हमारे 54 में से केवल 4 MLA बीजेपी के साथ, जल्द उन्हें वापस लाएंगे'
नवाब मलिक ने कहा हम उन 4 विधयाकों को वापस लाने के लिए प्रयासरत हैं.

मुंबई: एनसीपी नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने दावा किया कि उनके पास 50 विधायकों का समर्थन है. उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके 4 विधायकों को बीजेपी (BJP) ने कहीं और रखा है. यानी 4 विधायक बीजेपी के साथ हैं. मलिक ने कहा हम उन 4 विधयाकों को वापस लाने के लिए प्रयासरत हैं.  इसी बीच, विधायकों को बचाने के भागदौड़ जारी है. अब एनसीपी (NCP) विधायकों को एयरपोर्ट के पास होटल हयात रीजेंसी में शिफ्ट किया जाएगा.

अब ये तीनो होटल्स ( हयात रेजेंसी जिसमें NCP के विधायकों को ठहराया जाएगा, द ललित जिसमे शिवसेना के विधायक रुके हैं और जेडब्ल्यू मैरिएट जिसमें कांग्रेस के विधायक रुके है), तीनो होटल्स सिर्फ 100 मीटर के रेडियस में मौजूद हैं. उधर, अजित पवार से मिलने पहुंचे निर्दलीय विधायक विनय कोरे ने कहा, "हम देख सकते हैं कि एनसीपी में दो गुट बन गए हैं. हमें फ्लोर टेस्ट के जरिए पता चल जाएगा कि किसका बड़ा गुट है, अजीत दादा के साथ कितने लोग हैं, पवार साहब के साथ कितने हैं और ये दोनों एक साथ ऐसा कर रहे हैं. काफी दिनों से हम दादा से नहीं मिले थे इसलिए हम उनसे मिलने आए थे."

एनसीपी विधायक दिलीप बांकर जो कि अजित पवार के साथ शपथ ग्रहण में मौजूद थे, उन्होंने अपना बयान दिया है जिसमें उन्होंने कहा है, "मैं हमेशा पवार साहेब (शरद पवार) के साथ रहा हूं. मैं उनसे मिला था और उन्हें बताया था कि मेरा बेटा बीमार है. मुझे नासिक जाना है. इसलिए मैं मीटिंग में नहीं आ सकूंगा. हम एनसीपी का सपोर्ट कर रहे हैं, बीजेपी का नहीं." 

देखें वीडियो:

इससे पहले, अजित पवार (Ajit Pawar) ने ट्वीट कर शरद पवार (Sharad Pawar) को अपना नेता बताया. अजित पवार ने कहा कि बीजेपी-एनसीपी गठबंधन महाराष्ट्र में स्थायी सरकार देगा. अजित पवार के ट्वीट पर उनके चाचा शरद पवार ने जवाब देते हुए कहा कि वह बीजेपी के साथ किसी भी हाल में सरकार नहीं बनाएंगे. अजित पवार झूठा बयान दे रहे हैं. शरद पवार ने अपने ट्वीट में लिखा, "बीजेपी के साथ सरकार बनाने का कोई सवाल ही नहीं. एनसीपी ने एकमत होकर सरकार बनाने के लिए शिवसेना के साथ गठबंधन करने का निर्णय लिया है. अजित पवार का बयान झूठा है और लोगों के बीच भ्रम पैदा कर रहा है."

(इनपुट: अंकुर त्यागी)