close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन देने तैयार NCP: सूत्र

राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP) महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन देने के लिए तैयार है.

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को समर्थन देने तैयार NCP: सूत्र
पवार और कांग्रेस प्रमुख सोमवार तक गठबंधन को अंतिम रूप दे सकते हैं. (फाइल फोटो)

मुंबई: शरद पवार (Sharad Pawar) के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP) महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना (Shivsena) को समर्थन देने के लिए तैयार है. सूत्रों के मुताबिक एनसीपी और शिवसेना गठबंधन की सरकार बनाएंगे, जबकि कांग्रेस बाहर से समर्थन का विस्तार करेगी. संभावना जताई जा रही है कि कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी और पवार सोमवार तक गठबंधन को अंतिम रूप दे सकते हैं.

महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक रविवार को शिवसेना को समर्थन देने के लिए फोन करेंगे और पार्टी प्रमुख सोनिया को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे. जो बाद में वरिष्ठ नेतृत्व से परामर्श के बाद अंतिम निर्णय लेंगी. बता दें कि राज्य के सभी कांग्रेसी विधायक हॉर्स ट्रेडिंग के डर से जयपुर में शिफ्ट कर दिए गए हैं.

ज़ी मीडिया के सूत्रों के मुताबिक, शरद पवार मंगलवार को एनसीपी की सर्वदलीय बैठक में शिवसेना को समर्थन देने के फैसले पर अपनी पार्टी के नवनिर्वाचित विधायकों की राय लेंगे.

दरअसल, एनसीपी के 54 और कांग्रेस के 44 विधायकों की संख्या प्रदेश में सरकार नहीं बना सकते है. हां, एक दूसरी तस्वीर की संभावना पर राजनीति करवट लेती है तब ये तस्वीर बन सकती है. शिवसेना के 56, एनसीपी के 56 और बाहर से कांग्रेस के 44 विधायकोँ के समर्थन के बल पर नई सरकार गठन का रास्ता बन सकता है. देखें- LIVE TV

उधर, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता भेजा है. राज्यपाल ने 11 नवंबर तक बीजेपी को सरकार बनाने को लेकर राजभवन को सूचित करने का वक्त दिया है.

एनसीपी ने राज्यपाल के फैसले पर नाराजगी जाहिर की है. एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि राजभवन को पहले इस बात की जानकारी ले लेनी चाहिए थी कि क्या बीजेपी के पास स्पष्ट बहुमत हैं या नहीं है. प्रदेश में विधायकों की खरीद फरोख्त (हॉर्स ट्रेडिंग) ना हो, इसका ख्याल राज्यपाल रखें. एनसीपी ने आगे कहा कि अगर बीजेपी सरकार स्थापित करती हैं लेकिन सदन में वह बहुमत नहीं साबित कर पाए तो एनसीपी वैकल्पिक सरकार देने पर विचार करेगी.  

दरअसल, बीजेपी सबसे ज्यादा विधायकों के साथ प्रदेश की नंबर एक पार्टी है. लिहाज़ा राजभवन बीजेपी को सरकार बनाने का आमंत्रण भेजा है. फिलहाल, बीजेपी प्रदेश मे अल्पमत की सरकार बनाने के हक मे नहीं नजर आ रही. सीएम देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि राज्यपाल के सरकार बनाने के न्योते पर पार्टी जल्द फैसला लेगी. बीजेपी ने रविवार को पार्टी की कोर कमेटी की बैठक बुलाई है जिसमें गवर्नर के सरकार बनाने के न्योते पर पार्टी कपना रुख तय करेगी. देवेन्द्र फडणवीस ने कहा है कि राज्यपाल के न्योते पर रविवार की बीजेपी कोर कमेटी की बैठक मेँ फैसला लेकर राजभवन को पार्टी अपने निर्णय से अवगत कराएगी.

महाराष्ट्र की 288 सीटों वाली महाराष्ट्र विधानसभा मे बीजेपी के पास सिर्फ़ 105 और करीब दर्जनभर निर्दलीय विधायकोँ का संख्याबल है. हालांकि ये बहुमत के 145 के आंकड़े से दूर है. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक गवर्नर के सरकार बनाने के न्योते पर राजभवन को बीजेपी की सरकार नहीं बनाने की मंशा बताने की तैयारी में है. अगर बीजेपी मना करती है तो ऐसी स्थिति में राज्यपाल प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना को सरकार बनाने का न्योता दे सकते हैं.