विकीपीडिया पर नेहरू के पेज में सरकारी IP एड्रेस के जरिये बदली गई जानकारी, कांग्रेस ने पीएम मोदी से मांगा जवाब

देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के विकीपीडिया पेज पर उनके धर्म को लेकर एडिटिंग करने का एक चौंकाने वाला खुलासा सामने आया है। कुछ मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, भारत सरकार के एक आईपी एड्रेस के जरिए नेहरू के पेज पर 26 जून को कुछ एडिट किया था। इसमें नेहरू के दादा गंगाधर नेहरू के बारे में जोड़ा गया कि वह मुस्लिम थे। हालांकि बाद में इस जानकारी को विकीपीडिया से डिलीट कर दिया गया। यह एडिट एक ही आईपी से किया गया था और वेरिफिकेशन में वह आईपी नेशनल इंर्फोमेटिक्स सेंटर (एनआईसी) से जुड़ा हुआ मिला। इससे पता चलता है कि यह आईपी एड्रेस एनआईसी ने मुहैया कराया था।

विकीपीडिया पर नेहरू के पेज में सरकारी IP एड्रेस के जरिये बदली गई जानकारी, कांग्रेस ने पीएम मोदी से मांगा जवाब

नई दिल्‍ली : देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के विकीपीडिया पेज पर उनके धर्म को लेकर एडिटिंग करने का एक चौंकाने वाला खुलासा सामने आया है। कुछ मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, भारत सरकार के एक आईपी एड्रेस के जरिए नेहरू के पेज पर 26 जून को कुछ एडिट किया था। इसमें नेहरू के दादा गंगाधर नेहरू के बारे में जोड़ा गया कि वह मुस्लिम थे। हालांकि बाद में इस जानकारी को विकीपीडिया से डिलीट कर दिया गया। यह एडिट एक ही आईपी से किया गया था और वेरिफिकेशन में वह आईपी नेशनल इंर्फोमेटिक्स सेंटर (एनआईसी) से जुड़ा हुआ मिला। इससे पता चलता है कि यह आईपी एड्रेस एनआईसी ने मुहैया कराया था।

रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि जवाहरलाल नेहरू से जुड़े विकीपीडिया पेजों को केंद्र सरकार के एक आईपी एड्रेस (कम्प्यूटर का पता) से बदला गया। पार्टी नेता रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि इस एक्टिविटी को ट्रेस करने पर पता चला कि यह केंद्र सरकार के सॉफ्टवेयर प्रोवाइडर नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर (एनआईसी) से की गई थी। इनमें से एक बदलाव नेहरू के दादा गंगाधर के बारे में था, 'गंगाधर का जन्म गयासुद्दीन ग़ाज़ी के रूप में एक मुस्लिम परिवार में हुआ था, लेकिन उन्होंने अंग्रेज़ों की पकड़ से बचने के लिए नाम बदलकर हिन्दू नाम गंगाधर रख लिया...'।

विकिपीडिया पर जवाहर लाल नेहरु और उनके दादा को मुस्लिम बताए जाने पर भड़की कांग्रेस ने इस मामले में प्रधानमंत्री से माफी मांगने की मांग की है। कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने मीडिया से बातचीत में मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के विकीपीडिया पेज को हैक करके उन्हें मुस्लिम बताने का प्रयास किया गया है। इस मामले में सरकार को माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि क्या मोदी सरकार इस मामले को लेकर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करेगी।

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक विकीपीडिया पर जानकारी को एडिट करके नेहरू और उनके दादा को 'मुस्लिम 'बताया गया था। यह मामला पहली बार 26 जून को सामने आया था। हंगामा बढ़ने के बाद गलत जानकारी को दुरुस्त कर दिया गया था।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.