close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पकिरीगुड़ी आतंकी हमले के दोषियों को NIA की विशेष कोर्ट ने दी 5 साल कैद की सजा

यह आतंकी हमला 23 दिसंबर 2014 को असम के कोकराझार जिले के अंतर्गत आने वाले पाकिरीगुड़ी गांव में अंजाम दिया गया था. हमले की रात आतंकियों ने आदिवासियों पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई थीं.

पकिरीगुड़ी आतंकी हमले के दोषियों को NIA की विशेष कोर्ट ने दी 5 साल कैद की सजा
एनआईए कोर्ट ने आरोपियों को पांच साल कैद की सजा दी है और दस हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है.

नई दिल्‍ली: असम के पकिरीगुड़ी आतंकी हमला मामले में नेशनल इंवेस्‍टीगेशन एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने चार आरोपियों को दोषी मानते हुए कैद की सजा सुनाई है. जिन आरोपियों को सजा सुनाई गई है, उनमें जयंत, बीना, द्व‍िथाई और खंडा का नाम शामिल है. 

एनआईए की विशेष अदालत ने इस सभी आरोपियों को पांच साल की कैद की सजा सुनाई है, साथ ही दस हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है. उल्‍लेखनीय है कि पकिरीगुड़ी आतंकी हमले में पांच आदिवासियों की मृत्‍यु हो गई थी, जबकि पांच अन्‍य आदिवासी गंभीर रूप से जख्‍मी हो गए थे. 

एनआईए के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, यह आतंकी हमला 23 दिसंबर 2014 को असम के कोकराझार जिले के अंतर्गत आने वाले पाकिरीगुड़ी गांव में अंजाम दिया गया था. हमले की रात आतंकियों ने आदिवासियों पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई थीं. इस हमले में कुल दस निर्दोष लोग हताहत हुए थे. 

यह भी पढ़ें: कश्मीर में छुट्टी पर घर गए हेड कांस्टेबल को आतंकियों ने गोली मारी, अस्पताल में भर्ती

यह भी पढ़ें: प्यार और बेवफाई बनी आतंकियों की दुश्मन, प्रेमिकाओं के चक्कर में गंवा रहे जान

जिसमें से पांच को अस्‍पताल में मृत घोषित कर दिया गया था, जबकि बाकी पांच को गंभीर रूप से जख्‍मी हालत में अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था. इस आतंकी हमले को लेकर सेरफंगुरी पुलिस स्‍टेशन में 24 दिसंबर 2014 को एफआईआर दर्ज की गई थी. बाद में इस केस को एनआईए के सुपुर्द कर दिया गया था. 

उन्‍होंने बताया कि जांच के दौरान एनआईए ने कुल 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था. जिसमें गौतम नामक आरोपी को अप्रैल में कोर्ट 4.5 साल कैद की सजा सुना चुकी है. वहीं चार अन्‍य आरोपियों को 27 मई को पांच साल की सजा सुनाई गई है. बाकी बचे दस मामलों पर अभी सुनवाई जारी है. फिलहाल ये सभी आरोपी न्‍यायिक हिरासत में हैं.