सीरिया में असद विरोधी समूहों में शामिल होने की भारतीयों की साजिश की जांच करेगी NIA

एनआईए ने आईपीसी की आपराधिक षड्यंत्र और भारत सरकार के साथ शांतिपूर्ण संबंध रखने वाले एक एशियाई देश के खिलाफ जंग छेड़ने से संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.

सीरिया में असद विरोधी समूहों में शामिल होने की भारतीयों की साजिश की जांच करेगी NIA
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सीरिया में बशर अल-असद सरकार को हटाने की आतंकवादी संगठनों जुंद अल-अकसा और जभात अल-नुसरा की कोशिश में शामिल होने के लिए केरल के कुछ युवाओं द्वारा रची गई कथित साजिश की जांच के लिए मामला दर्ज किया है. 

एनआईए ने आईपीसी की आपराधिक षड्यंत्र और भारत सरकार के साथ शांतिपूर्ण संबंध रखने वाले एक एशियाई देश के खिलाफ जंग छेड़ने से संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है. एनआईए ने एक बयान में कहा कि एजेंसी ने कड़े गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम कानून के तहत युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

एजेंसी ने कहा कि उसे प्रामाणिक जानकारी मिली थी कि 2013 के बाद से केरल और कर्नाटक के मूल निवासी और कतर में ठहरे कुछ युवाओं ने सीरिया के खिलाफ जंग छेड़ने के लिए आपराधिक षड्यंत्र रचा. सीरिया एक एशियाई देश है जिसके भारत के साथ संबंध शांतिपूर्ण हैं.

एनआईए के मुताबिक युवकों ने सीरिया तक यात्रा की और आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के मकसद से आतंकी संगठनों में शामिल हुए.

उन्होंने रायसीना डायलाग के आयोजकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि विदेश नीति पर चर्चा एवं परिचर्चा केवल कुछ लोगों तक सीमित नहीं रहनी चाहिए, चाहे वे राजनीतिक हों, नौकरशाह हो या संभ्रांत शिक्षाविद् हों.