रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन बोलीं-जो सेना पर सवाल उठा रहे हैं उन्‍हें अनदेखा करें

देहरादून में एक कार्यक्रम में रक्षामंत्री ने कहा, मैं देश के लोगों से विनती करना चाहूंगी कि उन लोगों पर भरोसा मत करिए जो अफवाहें फैला रहे हैं.

रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन बोलीं-जो सेना पर सवाल उठा रहे हैं उन्‍हें अनदेखा करें
Play

नई दिल्‍ली:  पाकिस्तान में घुसकर आतंकी अड्डों पर भारतीय वायु सेना की बमबारी पर सवाल उठाने वाले विपक्षी दलों पर केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने तीखा हमला बोला है. उन्‍होंने कहा, हमें इस समय उन लोगों को अनदेखा करने की जरूरत है, जो सैनिकों की गंभीरता और सिंप्‍ल‍िसिटी का इस्‍तेमाल लोगों को गुमराह करने के लिए कर रहे हैं.

देहरादून में एक कार्यक्रम में रक्षामंत्री ने कहा, मैं देश के लोगों से विनती करना चाहूंगी कि उन लोगों पर भरोसा मत करिए जो अफवाहें फैला रहे हैं. ऐसे लोगों से सजग रहिए, जो सेना पर सवाल उठा रहे हैं, मैं उनके सवाल देने के लिए तैयार हूं. रक्षामंत्री ने कहा, पिछले 60 साल से नेशनल वॉर मेमोरियल पेंडिंग था. इस दौरान हमने चार बड़े युद्ध लड़े. इसके बावजूद देश में एक भी वॉर मेमोरियल नहीं था. हमने इस फरवरी में देश को पहला वॉर मेमोरियल देश को समर्पित किया.

विपक्ष का बालाकोट अभियान का विवरण मांगना अनुचित : जावेड़कर
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को विपक्षी पार्टियों की आलोचना की और कहा कि अभियान के विवरण को साझा नहीं किया जा सकता है क्योंकि इससे पड़ोसी देश को मदद मिलेगी. जावड़ेकर ने कहा कि बालाकोट अभियान पर सबूत मांगना सशस्त्र बलों में विश्वास की कमी के बराबर है.

उन्होंने कहा, ‘समूचे देश को हमारे सशस्त्र बलों... वायु सेना पर गर्व है. जब उन्होंने पाकिस्तान में अंदर जाकर हवाई हमले किए तब इस पर शक करना और सबूत मांगना असल में पाकिस्तान की मदद करना है. सबूत मांगने का मतलब हमारी सेना और वायु सेना में विश्वास नहीं होना है.’