दोबारा परीक्षा लिए जाने पर अब कोई कनफ्यूजन नहीं है : प्रकाश जावड़ेकर

जावड़ेकर ने कहा कि अगर जरूरी हुआ तो 10वीं कक्षा का गणित विषय का इम्तिहान दिल्ली- एनसीआर और हरियाणा में जुलाई में होगा.

दोबारा परीक्षा लिए जाने पर अब कोई कनफ्यूजन नहीं है : प्रकाश जावड़ेकर
अगले 15 दिनों में इस बारे में निर्णय लिया जाएगा.

नई दिल्ली: केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि उनके मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को की गई घोषणा सीबीएसई के 10वीं के गणित और 12वीं के अर्थशास्त्र कीदोबारा परीक्षालिए जाने के संबंध में सभी भ्रमों को दूर कर देगा. पर्चा लीक के मुद्दे परदेश भर में छात्रों और अभिभावकों में व्यापक रोष के बी चसरकार ने आज कहा कि12 वीं कक्षा के अर्थशास्त्र की परीक्षा 25 अप्रैल को होगी और अगर जरूरी हुआ तो 10वीं कक्षा का गणित विषय का इम्तिहान दिल्ली- एनसीआर और हरियाणा में जुलाई में होगा.

सिलसिलेवार ट्वीट में केंद्रीय मंत्री ने स्कूली शिक्षा सचिव अनिल स्वरूप के बयान को दोहराया और कहा कि सरकार का लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि बच्चों का भविष्य बाधित नहीं हो.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘शैक्षिक और छात्रों के हितों को देखते हुए संवेदनशील सरकार ने10 वीं की गणित कीफिर से परीक्षा राष्ट्रव्यापी स्तर पर नहीं लेने का फैसला किया है. पुलिस से अंतिम जानकारी मिलने के बाद दोबारा परीक्षा दिल्ली और हरियाणा में होगी और अगर जरूरी हुआ तो यह जुलाई में होगी.’’ 

जावड़ेकर ने ट्वीट किया कि12 वीं के छात्रों का करियर बाधित नहीं हो इसके लिए अर्थशास्त्र की दोबारा परीक्षा25 अप्रैल को होगी. अब कोई भ्रम नहीं है. वहीं, 10 वीं के गणित की पुन: परीक्षा राष्ट्रव्यापी स्तर पर कराने से इनकार करते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कहा कि विस्तृत जांच के बाद अगले 15 दिनों में इस बारे में निर्णय लिया जाएगा.

परीक्षा को लीक-प्रूफ बनाने के समाधान तलाशें छात्र 
'न्यू इंडिया' बनते देश के मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के प्रश्नपत्र लीक होने को लेकर शुक्रवार को इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों से परीक्षाओं को 'लीक-प्रूफ' बनाने के समाधान तलाशने की अपील की. जावेड़कर ने प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा, "1,200 से अधिक कॉलेजों के एक लाख से ज्यादा विद्यार्थी स्मार्ट इंडिया हैकाथन 2018 में हिस्सा ले रहे हैं, जो एक रिकॉर्ड है."

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद इस प्रतियोगिता के दूसरे संस्करण का आयोजन कर रहा है. प्रथम संस्करण का आयोजन पिछले साल किया गया था. इस प्रतियोगिता में सॉफ्टवेयर हैकाथन और हार्डवेयर हैकाथन को शामिल किया गया है. हार्डवेयर हैकाथन प्रतियोगिता के अंतिम चरण का आयोजन जून में होगा.