close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिश्केक में एससीओ बैठक से इतर मोदी-इमरान की मुलाकात के बारे में कोई फैसला नहीं

पिछले साल अगस्त में इमरान के प्रधानमंत्री बनने के बाद दोनों नेताओं की मुलाकात नहीं हुई है. एक अन्य सूत्र ने मीडिया के एक हिस्से में आयी उन खबरों को पूरी तरह से अटकलें बताया कि बिश्केक में दोनों प्रधानमंत्रियों की मुलाकात होगी.

बिश्केक में एससीओ बैठक से इतर मोदी-इमरान की मुलाकात के बारे में कोई फैसला नहीं
फाइल फोटो

नई दिल्ली: अगले महीने बिश्केक में होने वाली एससीओ शिखर बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्तानी समकक्ष इमरान खान की किसी मुलाकात के बारे में अभी कोई फैसला नहीं किया गया है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की सालाना शिखर बैठक किर्गिजस्तान की राजधानी बिश्वेक में 13-14 जून को होगी. इसमें प्रधानमंत्री मोदी भाग लेंगे. इमरान के भी इसमें शामिल होने की संभावना है. मोदी और इमरान की मुलाकात की संभावना को पूरी तरह से खारिज किए बिना एक सरकारी सूत्र ने कहा, ‘‘इस मुद्दे पर कोई फैसला नई सरकार ही करेगी.’’ 

पिछले साल अगस्त में इमरान के प्रधानमंत्री बनने के बाद दोनों नेताओं की मुलाकात नहीं हुई है. एक अन्य सूत्र ने मीडिया के एक हिस्से में आयी उन खबरों को पूरी तरह से अटकलें बताया कि बिश्केक में दोनों प्रधानमंत्रियों की मुलाकात होगी. जनवरी 2016 में पठानकोट में भारतीय वायुसेना के अड्डे पर आतंकवादी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के साथ बातचीत नहीं की है. भारत का कहना है कि आतंकवाद और बातचीत साथ साथ नहीं चल सकते.

 

प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी 30 मई को अपने दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ लेंगे. शपथ ग्रहण समारोह के लिए बिम्सटेक : बंगाल की खाड़ी बहु-क्षेत्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग उपक्रम: देशों के नेताओं को आमंत्रित करने के सरकार के फैसले से परिलक्षित होता है कि भारत पाकिस्तान के साथ बातचीत का इच्छुक नहीं है. हालांकि विदेश मंत्रालय ने कहा है कि सरकार का यह फैसला उसकी ‘‘पड़ोसी प्रथम’’ नीति के अनुरूप है.