निर्भया गैंगरेप डॉक्‍यूमेंट्री का दिल्ली में नहीं होगा प्रसारण: बीबीसी

बीबीसी ने कहा है कि 16 दिसंबर 2012 की सामूहिक बलात्कार की घटना पर आधारित विवादास्पद डाक्यूमेंट्री का भारत में प्रसारण करने की उसकी कोई योजना नहीं है। हालांकि बीबीसी ने भारत सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध की अनदेखी करते हुए ब्रिटेन में इसका प्रसारण किया है।

नई दिल्ली : बीबीसी ने कहा है कि 16 दिसंबर 2012 की सामूहिक बलात्कार की घटना पर आधारित विवादास्पद डाक्यूमेंट्री का भारत में प्रसारण करने की उसकी कोई योजना नहीं है। हालांकि बीबीसी ने भारत सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध की अनदेखी करते हुए ब्रिटेन में इसका प्रसारण किया है।

गृह मंत्रालय को भेजे एक संदेश में बीबीसी ने कहा है कि भारत सरकार के निर्देश का अनुपालन करते हुए वह डाक्यूमेंट्री का प्रसारण भारत में नहीं करेगा। सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी। हालांकि इसी संदेश में ब्रिटिश मीडिया कंपनी ने कहा है कि उसने बीती रात दस बजे ब्रिटेन में इसका प्रसारण किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कल बीबीसी से इस डाक्यूमेंट्री का प्रसारण कहीं भी नहीं करने को कहा था।

अधिकारियों ने बताया था कि गृह मंत्रालय ब्रिटिश फिल्म निर्माता लेस्ली उडविन के खिलाफ भी अनुमति की शर्तो का कथित रूप से उल्लंघन करने के आधार पर कानूनी कार्रवाई करने की भी योजना बना रहा है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि जेलों के भीतर इस प्रकार की शूटिंग की अनुमति देने वाले प्रावधानों की समीक्षा की जाएगी। दिल्ली की एक अदालत ने कहा था कि दोषी मुकेश सिंह के साक्षात्कार के प्रसारण पर रोक का आदेश अगले आदेश तक जारी रहेगा।

इस डाक्यूमेंट्री में मुकेश का उडविन और बीबीसी द्वारा लिया गया साक्षात्कार शामिल हैं। मुकेश उस बस का ड्राइवर था जिसमें 23 साल की पैरामेडिकल छात्रा के साथ 16 दिसंबर 2012 की रात को छह लोगों द्वारा जघन्य बलात्कार किया गया था। वह स्वयं भी अपराध में शामिल था। मुकेश ने इस फिल्म में पीड़िता के खिलाफ बेहद आपत्तिजनक टिप्पणियां की हैं।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.