कश्मीर के छात्र-छात्राओं पर नहीं है कोई खतरा: प्रकाश जावड़ेकर

कश्मीर के छात्र-छात्राओं पर नहीं है कोई खतरा: प्रकाश जावड़ेकर

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा देशवासी पुलवामा हमले से नाराज जरूर हैं लेकिन उसके बाद किसी भी कश्मीरी विद्यार्थी पर हमला नहीं हुआ है 

कश्मीर के छात्र-छात्राओं पर नहीं है कोई खतरा: प्रकाश जावड़ेकर

नयी दिल्ली: केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद कश्मीरी विद्यार्थियों पर किसी भी हमले की खबर से बुधवार को इनकार किया और कहा कि घाटी के छात्र-छात्राओं पर कोई खतरा नहीं है.

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को जैश ए मोहम्मद के आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे. जावडेकर ने यहां संवाददाताओं से कहा, 'कश्मीरी विद्यार्थियों पर कोई खतरा नहीं है, जैसा कि पेश किया जा रहा है. देशवासी पुलवामा हमले से नाराज जरूर हैं लेकिन उसके बाद किसी भी कश्मीरी विद्यार्थी पर हमला नहीं हुआ है'. 

विभिन्न शहरों में कई कश्मीरी विद्यार्थियों पर पुलवामा आतंकवादी हमले का कथित रूप से समर्थन करने पर राजद्रोह के आरोप लगाये गये हैं. देहरादून के दो कॉलेजों ने घाटी के विद्यार्थियों को दाखिला नहीं देने का निर्णय लिया है. घाटी के विद्यार्थियों का कहना है कि इस घटना (पुलवामा हमले) के बाद वे भय में हैं.

जम्मू कश्मीर प्रशासन ने राज्य से बाहर रह रहे विद्यार्थियों को सोमवार को किसी भी अफवाह पर ध्यान नहीं देने और अपने अपने स्थानों पर ही रहने की सलाह दी. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को सभी राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों को परामर्श जारी कर कश्मीरियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाने को कहा था.

उससे पहले केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सर्वदलीय बैठक को कश्मीरी विद्यार्थियों और पुलवामा हमले के बाद कथित रूप से धमकाये गये लोगों को सुरक्षा उपलब्ध कराने के लिए जरूरी कदम उठाने का आश्वासन दिया था.

(इनपुट-भाषा)

Trending news