Madhya Pradesh के मंत्री का विवादित बयान- कोरोना से हो रही मौतों को कोई नहीं रोक सकता

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण और मौत के आंकड़ों के बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने विवादित बयान दिया है और कहा है कि कोरोना वायरस से हो रही मौतों को कोई नहीं रोक सकता.

Madhya Pradesh के मंत्री का विवादित बयान- कोरोना से हो रही मौतों को कोई नहीं रोक सकता
प्रेम सिंह पटेल (फाइल फोटो)

भोपाल: देशभर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण बढ़ता जा रहा है और मौत के आंकड़ों में भी लगातार वृद्धि हो रही है. इस बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने विवादित बयान दिया है और कहा है कि कोरोना वायरस से हो रही मौतों को कोई नहीं रोक सकता. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जिसकी उम्र हो गई है, उन्हें तो मरना ही है.

जिसकी उम्र हो गई, उन्हें मरना ही है: प्रेम पटेल

प्रेम सिंह पटेल (Prem Singh Patel) ने एक पत्रकार द्वारा मौत के आंकड़ों पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा, 'कोरोना वायरस से होने वाली मौत को कोई नहीं सकता. कोविड से बचेने के लिए सभी लोगों को सहयोग करना होगा. इसके बचाव के लिए चारों विधान सभा में सभी से बातचीत की गई है. साथ ही लोगों को कहा कि मास्क पहने और सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखे. डॉक्टरों को दिखाएं और इलाज कराएं, सभी जगह डॉक्टरों की व्यवस्थाएं की गई है.' इसके साथ ही उन्होंने कहा, 'आपने कहा कि हर दिन बहुत से लोग मर रहे हैं. जिसकी उम्र हो जाती है, उन्हें तो मरना ही पड़ता है.'

मध्य प्रदेश में कोरोना से मौतों का रिकॉर्ड

मध्य प्रदेश में बुधवार को 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमण से 51 और लोगों की मौत हो गई, जबकि 9720 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई. नए रोगियों और इससे मरने वालों का यह एक दिन का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है. इससे पहले 13 अप्रैल को 8998 नए मामले सामने आए थे और 13 अप्रैल को ही 40 व्यक्तियों की मौत इस महामारी से हुई थी. मध्य प्रदेश में अब तक मरने वालों की संख्या बढ़कर 4312 हो गई है, साथ ही प्रदेश में कोरोना वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 3 लाख 63 हजार 352 तक पहुंच गई है. अब तक 3 लाख 5 हजार 832 मरीज ठीक होकर घर चले गए हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.