त्योहारों के मौके पर घर की करना चाहते हैं साफ-सफाई तो ये खबर आपके लिए है

आपकी परेशानियों को दूर करने के लिए पेशेवर ‘डीक्लटरर्स’ आ गये हैं जो घर की अन्य छोटी मोटी चीजों की छंटाई और साफ सफाई में आपकी मदद करेंगे.   

त्योहारों के मौके पर घर की करना चाहते हैं साफ-सफाई तो ये खबर आपके लिए है
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: दिवाली जैसे मौकों पर साफ सफाई के समय अगर आप भी इस बात को लेकर ऊहापोह में फंस जाते हैं कि घर में भरे इतने सारे सामान की सफाई कैसे हो और इनमें से क्या फेंकें और क्या घर में रखें, तो यह खबर आपके लिए है. आपकी परेशानियों को दूर करने के लिए पेशेवर ‘डीक्लटरर्स’ आ गये हैं जो घर की अलमारियों या डिब्बों में धूल फांक रहीं पुस्तकों, कपड़ों, रसोई के सामान और अन्य छोटी मोटी चीजों की छंटाई और साफ सफाई में आपकी मदद करेंगे. दरअसल, कई चीजों से लोगों का भावनात्मक जुड़ाव होता है जबकि कुछ सामान के बारे में उनकी सोच होती है कि किसी न किसी दिन उसकी जरूरत पड़ सकती है. 

इसी वजह से लोगों को सामान की छंटनी करने में बहुत परेशानी होती है. सरल भाषा में कहें तो पेशेवर ‘डीक्लटरर्स’ वे प्रशिक्षित विशेषज्ञ होते हैं जो आपके घर की जगह को बेहतर तरीके से इस्तेमाल लायक बनाने में मदद करते हैं, आपको कई तरह की सलाह देते हैं और घर की साफ सफाई में हाथ बंटाते हैं.

Image result for house clean zee news
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

वे यह काम केवल दिवाली के मौसम में नहीं, पूरे साल में कभी भी कर सकते हैं. शहरों में घर के घटते आकार में जरूरत की चीजों को संभालकर रखना भी मुश्किल चुनौती साबित होती है. यह काम करने का प्रशिक्षण देने वाली गुड़गांव की शिवानी गुलाटी ने कहा कि यह काम घर के सामानों की छंटनी करने तथा इसे जगह के हिसाब से बेहतर तरीके से लगाने का है.

उन्होंने कहा, ‘‘हम भारतीय सामान एकत्रित करने वाले होते हैं.  हममें से ज्यादातर ऐसे सामान भी खरीद लेते हैं जिनकी हमें जरूरत नहीं है. लेकिन घर में जगह तो सीमित ही होती है. इसलिए यहां से हमारा (पेशेवर) काम शुरू होता है. पहले, ज्यादातर लोग नहीं जानते थे कि ‘डीक्लटरिंग’ का क्या मतलब होता है, वे पूछते थे ‘आप सफाई करोगे’? सफाई तो इससे जुड़ा हुआ काम है. ’’