Password के पंजे में फंसी दुनिया को मिलेगी मुक्ति, अब ऐसे कर पाएंगे Login

अगर आप चाहते हैं कि आपका पासवर्ड 200 साल तक कोई भी Crack नहीं कर पाए तो आप इसे कम से कम 12 Characters का बनाएं. इन Characters का Combination भी ऐसा रखें, जिसका अंदाजा लगाना आसान नहीं हो.

Password के पंजे में फंसी दुनिया को मिलेगी मुक्ति, अब ऐसे कर पाएंगे Login
पासवर्ड से मुक्ति की ओर दुनिया.
Play

नई दिल्ली: क्या आप अपना पासवर्ड याद करते-करते अब थक चुके हैं? हमें बचपन से पासवर्ड (Password) के बोझ से लाद दिया जाता है. बैंक अकाउंट, E-mail अकाउंट, फेसबुक अकाउंट या कोई और सोशल मीडिया अकाउंट हो या फिर आपका फोन, लैपटॉप या कोई और गैजेट हो, सब पर पासवर्ड वाले ताले लगे हुए हैं और अब दुनिया के लोग पासवर्ड से थकने लगे हैं.

कई पासवर्ड याद रखना है काफी मुश्किल

लेकिन पासवर्ड की दुनिया बहुत पुरानी है और हम सब लोग बचपन से पासवर्ड का इस्तेमाल अलग-अलग रूपों में कर रहे हैं, कभी तिजोरी के पासवर्ड के रूप में, कभी किसी सूटकेस या साइकिल के Lock Pattern के रूप में तो कभी अंगूठे के निशान के रूप में.

पासवर्ड याद रखने की पहेली में फंसे लोग

फिर इंटरनेट का जमाना आया और ये Password Digital पासवर्ड में बदल गए. अब इन Passwords को लोग कभी किसी डायरी में लिखते हैं तो कभी अपने मोबाइल फोन में Save करते हैं. इतनी मेहनत के बाद भी तब बहुत गुस्सा आता है जब ये Password Expire हो जाते हैं और इन्हें नए सिरे से Reset करना पड़ता है और ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहता है. कभी-कभी तो ऐसा लगता है कि पूरा जीवन ही पासवर्ड को भूल जाने और इसे याद रखने की पहेली में फंस गया है.

ये भी पढ़ें- क्रिकेट में पाकिस्तान का अंतरराष्ट्रीय अपमान, मैच खेले बिना ही वापस लौटी न्यूजीलैंड की टीम

अब नहीं होगी पासवर्ड याद रखने की जरूरत

लेकिन अब दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक Microsoft ने Password Less भविष्य की तरफ कदम बढ़ाया है. अब आपको Microsoft की अलग-अलग सेवाओं के इस्तेमाल के लिए अलग-अलग Password याद रखने की जरूरत नहीं होगी. बल्कि अब आप अपने Account को Login करने के लिए इस कंपनी के Authenticator App, Windows के Hello फीचर, Security Key या फिर SMS और Email पर हासिल होने वाले Verification Code से Login कर सकते हैं.

अलग-अलग Passwords याद रखना एक बड़ी चुनौती है. पूरी दुनिया में अब तक लोगों ने तीस हजार करोड़ से ज्यादा Passwords Create किए हैं. फिर भी इनमें से 70 प्रतिशत Password को Hackers चंद Seconds में Crack कर सकते हैं.

सिर्फ 2016 में ही दुनिया भर के 300 करोड़ से ज्यादा Password चुरा लिए गए थे यानी Hackers हर दिन 8 लाख पासवर्ड आसानी से चुरा लेते हैं. IT Experts मानते हैं कि सात Characters का पासवर्ड एक सेकेंड से भी कम समय में हैक किया जा सकता है, 9 Characters का पासवर्ड 5 दिनों में और 10 Characters का 4 महीनों में हैक किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीनेशन के मामले में भारत ने बनाया विश्‍व रिकॉर्ड, चीन को पछाड़ा

लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपका Password 200 वर्षों तक भी कोई Crack ना कर पाए तो आपको इसे कम से कम 12 Characters का बनाना होगा और इन Characters का Combination भी ऐसा होना चाहिए, जिसका अनुमान लगाना मुश्किल हो.

अब यहीं से परेशानी शुरू होती है. मुश्किल पासवर्ड को याद रखना भी मुश्किल होता है और आसान पासवर्ड आसानी से चुराया जा सकता है इसलिए अब कंपनियां Password Less भविष्य की तरफ देख रही हैं और एक हद तक इसकी शुरुआत भी हो चुकी है. अब पासवर्ड की जगह आपकी आंखों के Scan, चेहरे की पहचान, उंगलियों और अंगूठे के निशान यानी Finger Prints का इस्तेमाल किया जा रहा है.

कुल मिलाकर दुनिया वहीं पहुंच गई है जहां से शुरू हुई थी. एक जमाने में बिना अंगूठे का निशान लगाए आपको कोई सरकारी सुविधा नहीं मिलती थी चाहे वो बैंक हो या राशन की दुकान लेकिन अब आपके अंगूठे और उंगलियों का Digital निशान ही आपका नया पासवर्ड बन गया है. लेकिन इसके भी अपने खतरे हैं जिसके बारे में हम आपको आगे बताएंगे.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.