अमेरिकी विदेश मंत्री ने NSA Ajit Doval से की मुलाकात, अफगानिस्तान और इंडो-पैसिफिक की सुरक्षा पर हुई चर्चा

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) ने बुधवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल (Ajit Doval) से मुलाकात के दौरान क्षेत्रीय मुद्दों समेत अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति पर बातचीत की.

अमेरिकी विदेश मंत्री ने NSA Ajit Doval से की मुलाकात, अफगानिस्तान और इंडो-पैसिफिक की सुरक्षा पर हुई चर्चा
एंटनी ब्लिंकन ने अजित डोभाल से मुलाकात की. (फोटो सोर्स- पीटीआई)

नई दिल्ली: अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) ने बुधवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल (Ajit Doval) के साथ दोनों देशों के द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों समेत अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति पर बातचीत की. बैठक के दौरान दोनों ने इंडो-पैसिफिक और क्षेत्रीय व वैश्विक सुरक्षा स्थिति पर भी चर्चा की.

2 दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे एंटनी ब्लिंकन

एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) अफगानिस्तान में तेजी से बदल रहे सुरक्षा परिदृश्य, हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भागीदारी को बढ़ावा देने और कोविड-19 महामारी से निपटने के प्रयासों समेत अन्य विषयों पर बातचीत के व्यापक एजेंडे के साथ दो दिवसीय यात्रा पर मंगलवार शाम को दिल्ली पहुंचे.

इन अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) की अजित डोभाल (Ajit Doval) के साथ बैठक के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी उपलब्ध नहीं है. हालांकि साउथ ब्लॉक के अधिकारी ने बताया कि बैठक के दौरान में दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों और अफगानिस्तान की स्थिति को लेकर चर्चा हुई. इसके अलावा दक्षिण चीन सागर और इंडो-पैसिफिक में चीन के आक्रामक व्यवहार पर भी चर्चा हुई.

अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने अपनी ओर से अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र, अफगान में तालिबान के आक्रमण और पूर्वी लद्दाख की स्थिति पर भारतीय सुरक्षा के दृष्टिकोण को साझा किया. इसके अलावा दोनों पक्षों ने क्षेत्र में सुरक्षा परिदृश्य पर बहुत स्पष्ट आदान-प्रदान किया और तालिबान के हमले के मद्देनजर अफगानिस्तान को स्थिर करने के तरीकों पर चर्चा की.

बाइडेन प्रशासन के तीसरे अधिकारी की भारत यात्रा

अमेरिकी विदेश मंत्री का पदभार संभालने के बाद एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) की यह पहली भारत यात्रा है और जनवरी में सत्ता में आने के बाद जो बाइडेन (Joe Biden) प्रशासन के किसी उच्च पदस्थ अधिकारी की यह तीसरी यात्रा है. इससे पहले अमेरिकी रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन मार्च में भारत आए थे, जबकि जलवायु परिवर्तन पर अमेरिका के विशेष दूत जॉन केरी ने अप्रैल में नई दिल्ली की यात्रा की थी.

ब्लिंकन की सिविल सोसाइटी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक

एंटनी ब्लिंकन (Antony Blinken) ने सुबह में भारत में सिविल सोसाइटी के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की. बैठक के बाद ब्लिंकन ने ट्विटर पर कहा कि अमेरिका और भारत लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति प्रतिबद्धता व्यक्त करते हैं. ब्लिंकन ने कहा, 'मुझे आज सिविल सोसाइटी के प्रतिनिधियों से मिलकर खुशी हुई। अमेरिका और भारत लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति प्रतिबद्धता साझा करते हैं. यह हमारे संबंधों की बुनियाद का हिस्सा है और भारत के बहुलवादी समाज और सद्भाव के इतिहास को दर्शाता है. नागरिक संस्थाएं इन मूल्यों को बढ़ावा देने में मदद करती हैं.'

लाइव टीवी

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.