ओसीए के अध्यक्ष बोले, 'भारत अगर दिलचस्पी दिखाएगा तो मिल सकती है एशियाई खेलों की मेजबानी'

भारत ने पहले एशियाई खेलों की 1951 में मेजबानी की थी जिसका आयोजन दिल्ली में हुआ था. 

ओसीए के अध्यक्ष बोले, 'भारत अगर दिलचस्पी दिखाएगा तो मिल सकती है एशियाई खेलों की मेजबानी'
(फाइल फोटो)

जकार्ता: एशियाई ओलंपिक परिषद (ओसीए) के अध्यक्ष शेख अहमद अल-फहाद अल-अहमद अल-सबाह ने कहा कि भारत को एशियाई खेलों की मेजबानी तीसरी बार तभी मिल सकती है जब वह इसमें दिलचस्पी दिखाएगा.भारत ने पहले एशियाई खेलों की 1951 में मेजबानी की थी जिसका आयोजन दिल्ली में हुआ था. इसके बाद इसी शहर में 1982 में भी इन खेलों का आयोजन हुआ था. एशियाई खेलों के अलावा भारत ने एक बार 2010 में राष्ट्रमंडल खेलों का आयोजन किया है. 

तीसरी बार भी कर सकता है मेजबानी
भारतीय ओलंपिक समिति (आईओए) ने 2014 एशियाई खेलों की मेजबानी हासिल करने की कोशिश की थी लेकिन कोरिया के इंचियोन से पिछड़ गया था. शेख अहमद ने कहा, ‘‘भारत ने लंबे समय तब मेजबानी का दावा पेश नहीं किया. पिछली बार जब उन्होंने ऐसा किया था तो वे इंचियोन से पिछड़ गये. अगर भारत निवेदन करेगा तो इसके लिए सामान्य प्रक्रिया है. हमें भारत की क्षमता के बारे में पता है. उन्होंने हमारे खेलों का दो बार आयोजन किया है. जब भी वे तैयार होंगे, हम भी तैयार होंगे.’’ 

भारत एशिया का यूनान- अहमद
ओसीए अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ खासकर राष्ट्रमंडल खेलों के बाद शायद वे अगले खेलों का आयोजन बहुत अच्छे से करना चाहते होंगे. जब भी दिल्ली, मुंबई या किसी अन्य शहर मेजबानी का दावा करेगा है तो हम उसका स्वागत करेंगे. भारत एशिया का यूनान है.’’ उन्होंने भारत की तुलना यूनान से इसलिए की क्योकि यूनान ने पहले ओलंपिक की मेजबानी की थी. आईओए 2030 एशियाई खेलों और 2032 ओलंपिक की मेजबानी के लिए बोली लगाने का इच्छुक है.

(इनपुट भाषा से)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.