सुप्रीम कोर्ट में आखिरी दिन CJI रंजन गोगोई की भरी अदालत में वकीलों ने की तारीफ, तो वे मुस्‍कुराकर बोले...

Supreme Court : शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में बतौर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई परंपरा के मुताबिक अगले CJI शरद अरविंद बोबड़े (Sharad Arvind Bobde) के साथ बैठे. 

सुप्रीम कोर्ट में आखिरी दिन CJI रंजन गोगोई की भरी अदालत में वकीलों ने की तारीफ, तो वे मुस्‍कुराकर बोले...
चीफ जस्टिस रंजन गोगोई का फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली : सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई (Ranjan Gogoi) आगामी 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो रहे है. हालांकि सुप्रीम कोर्ट में आज उनका आखिरी कार्यदिन है. इसको लेकर आज शाम सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (Supreme Court Bar Association) उनका विदाई समारोह आयोजित करेगा. मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई आज दोपहर ढाई से 3 बजे के बीच राजघाट जाएंगे. बता दें कि आगामी 18 नवंबर को देश के अगले चीफ जस्टिस एसए बोबड़े शपथ लेंगे. 

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में बतौर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई परंपरा के मुताबिक अगले CJI शरद अरविंद बोबड़े (Sharad Arvind Bobde) के साथ बैठे. उनकी कोर्ट की कार्यवाही करीब 3 मिनट ही चली. इस दौरान CJI रंजन गोगोई ने अपने सामने सूचीबद्ध सभी 10 मामलों पर नोटिस किया. सुनवाई के दौरान कई वकीलों ने अपनी दलीलों के अलावा उनकी जमकर तारीफ भी की. अपने सम्‍मान में यह बातें सुनकर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई मुस्‍कुराए और उन्‍होंने वकीलों को धन्‍यवाद कहा.

उल्‍लेखनीय है कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अपने कार्यकाल में कई ऐतिहासिक फैसले दिए, जिनमें प्रमुख फैसले अयोध्या विवाद (Ayodhya Case), सबरीमाला केस (Sabarimala Case), राफेल केस (Rafale Case), राहुल गांधी के चौकीदार चोर है वाले बयान, वित्त विधेयक और सीजेआई दफ्तर आरटीआई के दायरे में... शामिल हैं.