गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राहुल का देशवासियों के नाम खत

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संविधान ही हमारे प्रिय गणतंत्र की कसौटी है. जब भी यह खतरे में पड़े तो इसकी एकजुटता के साथ रक्षा की जानी चाहिए.

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राहुल का देशवासियों के नाम खत
राहुल ने कहा कि संविधान में की गई न्‍याय, स्‍वतंत्रता, समानता और बंधुत्‍व की प्रतिबद्धताओं की रक्षा करने की पहले से कहीं ज्यादा जरूरत है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 69वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्‍या पर देशवासियों के नाम एक पत्र लिखकर उन्‍हें भारतीय संविधान में न्‍याय, स्‍वतंत्रता, समानता एवं बंधुत्‍व के बारे में की गयी प्रतिबद्धता की याद दिलाई. राहुल ने कहा कि संविधान में की गई न्‍याय, स्‍वतंत्रता, समानता और बंधुत्‍व की प्रतिबद्धताओं की रक्षा करने की पहले से कहीं ज्यादा जरूरत है.

'हमें अपने संविधान की रक्षा करनी है'
राहुल गांधी ने कहा, 'हमारे युवा देश के इतिहास में इन मूल्‍यवान प्रतिबद्धताओं की पहले से कहीं अधिक रक्षा किए जाने की आवश्‍यकता है.' उन्‍होंने इन प्रतिबद्धताओं की चर्चा करते हुए कहा कि इस गणतंत्र दिवस पर हमें अपनी उस आजीवन चलने वाली शपथ को दोहराना चाहिए. हमें अपने संविधान की रक्षा करनी है. संविधान ही हमारे प्रिय गणतंत्र की कसौटी है. जब भी यह खतरे में पड़े तो इसकी एकजुटता के साथ रक्षा की जानी चाहिए. राहुल ने इस पत्र में सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी है.

राहुल गांधी को गणतंत्र दिवस समारोह में मिल सकती है चौथी लाइन में जगह
सरकार ने शुक्रवार को गणतंत्र दिवस परेड में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को आमंत्रित किया है लेकिन उन्हें बैठने के लिए चौथी लाइन में जगह दी जाएगी. कांग्रेस सूत्रों ने यह जानकारी दी है. बहरहाल, राजनीतिक नेताओं एवं मंत्रियों के बैठने के इंतजाम को लेकर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

गुरुग्राम में स्कूल बस पर हमले की राहुल ने की निंदा, कहा 'हिंसा और नफरत कमजोरों का हथियार है'

कांग्रेस के एक नेता ने अपनी पहचान उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया, ‘‘हमें पता चला है कि कांग्रेस अध्यक्ष को चौथी लाइन में एक सीट दी की गई है जबकि विगत में वे गणतंत्र दिवस परेड में अग्रिम पंक्ति में बैठते थे.’’ हालांकि, उन्होंने कहा कि राहुल गांधी इस समारोह में भाग लेंगे भले ही उन्हें किसी भी पंक्ति में बैठाया जाए.

एक अन्य नेता ने कहा कि यह कदम उस सार्वजनिक समारोह में कांग्रेस नेतृत्व का 'अपमान करने' के मकसद से है जिसमें आसियान के सभी 10 देशों के राष्ट्र प्रमुख मौजूद रहेंगे. कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि आजादी के बाद से ही पार्टी अध्यक्ष प्रथम पंक्ति में बैठते रहे हैं जिसमें सोनिया गांधी भी शामिल हैं.  भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भी 2014 में इस सरकार के सत्ता में आने के बाद से गणतंत्र दिवस परेड में हमेशा प्रथम पंक्ति में बैठने का स्थान दिया गया है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.