Good News: आने वाली 15 जनवरी से लागू हो जाएगा 'एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड'

काम की तलाश के लिए दूसरे राज्य जाने वालों के लिए खुशखबरी है.

Good News: आने वाली 15 जनवरी से लागू हो जाएगा 'एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड'
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: काम की तलाश के लिए दूसरे राज्य जाने वालों के लिए खुशखबरी है. आने वाली 15 जनवरी से 'वन नेशन वन राशन कार्ड' लागू हो जाएगा. लाभार्थी देश में कहीं भी ई-पीओएस उपकरण पर बायोमेट्रिक प्रमाणन करने के बाद अपने मौजूदा राशन कार्ड का उपयोग करके राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अधीन खाद्य सुरक्षा का लाभ ले सकते हैं.

लाभार्थी बिना कोई अतिरिक्त लागत या कागजी कार्रवाई के पोर्टेबिलिटी का लाभ प्राप्त कर सकेंगे और उनको अपने गृह राज्य या केंद्र शासित प्रदेश में जारी मौजूदा राशन कार्ड वापस करने और प्रवास के राज्य में नए राशन कार्ड के लिए आवेदन करने की कोई जरूरत नहीं है.

देश में कुल 79 करोड़ लोगों के पास राशन कार्ड हैं. इन 12 राज्यों में वन नेशन वन राशन कार्ड से 35 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा. जून 2020 में कुल 20 राज्यों में ये लागू हो जाएगा.
इस योजना से एक राज्य से दूसरे राज्य में जाकर काम करने वाले कम आमदनी वाले लोगों को सबसे ज्यादा फायदा मिलेगा. ये आधार लिंक कार्ड हैं. ई प्वाइंट ऑफ सेल के ज़रिए ये फायदा मिलेगा. वन नेशन वन राशन कार्ड को संभव बनाने के लिए 880 करोड़ रुपए कंप्यूटराइजेशन पर खर्च हो रहे हैं.

'वन नेशन वन राशन कार्ड' शुरुआत में 12 राज्य में लागू होगा. इन राज्यों के राशन कार्ड होल्डर किसी भी राज्य में अपना राशन ले सकेंगे.
 
ये राज्य हैं
आंध्र प्रदेश
तेलंगाना
गुजरात
महाराष्ट्र
हरियाणा
राजस्थान
कर्नाटक
केरल
गोवा
मध्य प्रदेश
त्रिपुरा
झारखंड