सीट बेल्ट नहीं लगाने पर ट्रैफिक पुलिस ने काटा चालान, कैब चालक ने कर लिया आत्मदाह

कथित रूप से अपनी सीट बेल्ट नहीं बांधने के लिए लगाये गये जुर्माने को लेकर यातायात पुलिस के साथ हुई बहस के बाद 24 जनवरी को एक कैब चालक ने खुद को सरेराह आग लगा ली. 

सीट बेल्ट नहीं लगाने पर ट्रैफिक पुलिस ने काटा चालान, कैब चालक ने कर लिया आत्मदाह
प्रतीकात्मक तस्वीर

चेन्नई: कथित रूप से अपनी सीट बेल्ट नहीं बांधने के लिए लगाये गये जुर्माने को लेकर यातायात पुलिस के साथ हुई बहस के बाद 24 जनवरी को एक कैब चालक ने खुद को सरेराह आग लगा ली. पुलिस ने बताया कि गंभीर रूप से झुलसे 21 वर्षीय मणिकंदन को एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने बताया कि तिरूनेलवेली जिले के रहने वाले युवक पर कथित रूप से सीट बेल्ट बांधे बिना कार चलाने के कारण जुर्माना लगाया गया था. 

हालांकि चालक ने जुर्माने का भुगतान कर दिया था लेकिन उसके यातायात पुलिस के कर्मियों के साथ बहस हो गई और उसने अपने मोबाइल फोन पर कथित ‘‘पुलिस प्रताड़ना’’ की तस्वीरें खींचने का प्रयास किया. चालक इसके बाद अचानक अपनी कार से पेट्रोल निकाल लाया और अपने ऊपर छिडकर आग लगा ली.

ओला चालक ने महिला को कार में बंद कर दुर्व्यवहार किया
पिछले साल दिसंबर में टैक्सी सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी ओला ने कहा कि एक महिला ने शिकायत की थी कि बेंगलुरू में एक चालक ने उसे कार में बंद कर दिया था और उसके साथ दुर्व्यवहार किया था, जिसके बाद चालक को निलंबित कर दिया गया. यह घटना रात 10.30 बजे हुई, जब शहर में फैशन स्टाइलिस्ट के रूप में काम करने वाली 23 वर्षीय महिला ने दक्षिणी उपनगर के बीटीएम लेआउट में अपने घर जाने के लिए ओला कैब लिया. ओला के प्रवक्ता ने बताया, "हमें सवारी के साथ इस प्रकार की घटना के लिए खेद है. इस तरह की शिकायत बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी. चालक को निलंबित कर दिया गया है."

ये भी पढ़ें: मुंबई: कैब ड्राइवर ने सुनसान में ले जाकर महिला यात्री से किया बलात्कार

महिला ने बताया, "कैब चालक ने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया और मुझे छूने की कोशिश की. उसने कार के दरवाजे बंद कर दिए. इससे मैं कार का दरवाजा नहीं खोल पा रही थी और वह मेरे नजदीक आने की कोशिश कर रहा था." उन्होंने कहा, "जैसे ही मैं रविवार रात घर पहुंची, मैंने ओला में शिकायत दर्ज करने की कोशिश की. दुर्भाग्य से शिकायत अगले दिन दर्ज हो पाई."

पीड़िता ने कहा, "कैब चालक ने उन्हें फोन पर धमकी दी. उसने अगले दिन (सोमवार) फोन किया और शिकायत नहीं दर्ज करने के लिए कहा." महिला ने घटना की शिकायत पुलिस से भी की. पीड़िता ने कहा, "पुलिस ने चालक को फोन किया और मुझे फोन करने और धमकी देने के लिए चेतावनी दी. मैंने अभी तक पुलिस में इसकी लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई है." ओला ने एप का प्रयोग करने से चालक को निलंबित कर दिया है.
इनपुट: भाषा