close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

युवा वोटर चाहते हैं असम में हो माणिक सरकार, केजरीवाल जैसा मुख्यमंत्री

बदलाव की उम्मीद पाले असम के छात्र अपने राज्य में पड़ोसी राज्य त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जैसा मुख्यमंत्री चाहते हैं, जो राज्य के समग्र विकास और सभी धर्मों के कल्याण के लिए काम करे।

युवा वोटर चाहते हैं असम में हो माणिक सरकार, केजरीवाल जैसा मुख्यमंत्री

तेजपुर (असम) : बदलाव की उम्मीद पाले असम के छात्र अपने राज्य में पड़ोसी राज्य त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जैसा मुख्यमंत्री चाहते हैं, जो राज्य के समग्र विकास और सभी धर्मों के कल्याण के लिए काम करे।

तेजपुर विश्वविद्यालय की छात्रा उद्दीपना गोस्वामी ने बताया, ‘एक बात तो तय है कि हम बदलाव चाहते हैं। लेकिन हम बेहतरी के लिए बदलाव चाहते हैं। भारतीय जनता पार्टी कहती है कि वे बदलाव हैं, लेकिन हालिया कुछ घटनाओं ने हमें चिंता में डाल दिया है।’ उद्दीपना गोस्वामी ने कहा कि छात्रों को असम में आरएसएस के प्रवेश करने और ‘क्षेत्रवाद पर राष्ट्रवाद को थोपने’ सहित लोगों के बीच ‘साम्प्रदायिक विभेद’ पैदा होने की चिंता है।

उद्दीपना ने कहा, ‘उदाहरण के तौर पर, पहले हम छात्रों को यह परेशानी नहीं होती थी कि कौन क्या खा रहा है। लेकिन विश्वविद्यालय में अब छात्र ऐसी बातें करते रहते हैं कि वह गोमांस खा रहा है, वह सुअर का मांस खा रही है, आदि। यह घातक है।’ उनकी सहपाठी सुकन्या मजूमदार ने कहा कि भाजपा तरूण गोगोई सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रचार कर रही है, लेकिन वह भी उसी में शामिल है और किसी जमाने में प्रभावशाली कांग्रेस के मंत्री रहे हिमंत बिस्व सरमा को महत्व दे रही है।