close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेलंगाना में लेनदेन को मशीन आधारित बनाने वाली आइरिश तकनीक का किया जाएगा इंपोर्ट

अधिकारियों ने दावा किया कि यह तकनीक शुरू होने के बाद देश में यह ऐसा पहला विभाग होगा जो इस प्रणाली को अपनाएगा.

तेलंगाना में लेनदेन को मशीन आधारित बनाने वाली आइरिश तकनीक का किया जाएगा इंपोर्ट
अधिकारियों ने कहा कि हम चाहते हैं कि सभी लेनदेन मशीन-आधारित हों ताकि हम प्रत्येक लेन-देन का पता लगा सकें.

हैदराबाद: तेलंगाना में उचित मूल्य की दुकानों (एफपीएस) पर बायोमेट्रिक प्रणाली और आइरिश तकनीक शुरू किये जाने के बाद, राज्य नागरिक आपूर्ति विभाग अब एक ऐसी तकनीक को लागू करने पर काम कर रहा है जो सभी लेनदेन मशीन-आधारित सुनिश्चित करे. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने ने दावा किया कि यह तकनीक शुरू होने के बाद देश में यह ऐसा पहला विभाग होगा जो इस प्रणाली को अपनाएगा.

 

नागरिक आपूर्ति विभाग के आयुक्त अकुन सभरवाल ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘17,027 एफपीएस में से, अभी भी 173 दुकानें हैं जो ऑफलाइन हैं और तकनीक का उपयोग नहीं कर रही हैं क्योंकि वे दूर दराज के क्षेत्रों में हैं. मैं ऐसी दुकानों की संख्या शून्य पर लाना चाहता हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि सभी लेनदेन मशीन-आधारित हों ताकि हम प्रत्येक लेन-देन का पता लगा सकें. बायोमेट्रिक सिस्टम और आइरिश के बाद, अगली तकनीक जिसे हम आगे देख रहे हैं वह फ्यूजन तकनीक है.’’