close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डॉक्टरों की हड़ताल के कारण कर्नाटक में चिकित्सा सेवा प्रभावित, अस्पतालों में भारी भीड़

एक दिन के हड़ताल के आह्वान के बाद कर्नाटक में सैकड़ों निजी अस्पतालों, नर्सिंग होम और क्लिनिकों में सोमवार को ओपीडी सेवा प्रभावित रही.

डॉक्टरों की हड़ताल के कारण कर्नाटक में चिकित्सा सेवा प्रभावित, अस्पतालों में भारी भीड़
कर्नाटक में भी डॉक्टरों ने हड़ताल किया. (प्रतीकात्मक फोटो)

बेंगलुरुः पश्चिम बंगाल में प्रदर्शन कर रहे डॉक्टरों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करते हुए भारतीय चिकित्सा संगठन (आईएमए) के एक दिन के हड़ताल के आह्वान के बाद कर्नाटक में सैकड़ों निजी अस्पतालों, नर्सिंग होम और क्लिनिकों में सोमवार को ओपीडी सेवा प्रभावित रही.

हड़ताल के कारण निजी अस्पतालों में चिकित्सा सहायता प्राप्त करने के लिए लोगों को संघर्ष करते देखा गया.

हालांकि, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण आयुक्त द्वारा परिपत्र जारी किए जाने के बाद सरकारी अस्पताल खुले रहे.

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने कहा कि सुबह से ही सरकारी अस्पतालों में भारी भीड़ है.

आईएमए ने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री एसएस पाटिल की इस हड़ताल को प्रतीकात्मक रखने और लोगों को ज्यादा परेशान नहीं करने की अपील पर ध्यान नहीं दिया.

कर्नाटक आईएमए के अध्यक्ष एन धनपाल ने कहा, ‘‘लगभग सभी निजी अस्पतालों और क्लिनिकों ने अपनी ओपीडी सेवाएं बंद कर दी हैं. आपात और प्रसूति मामलों को देखा जा रहा है.’’ 

धनपाल ने बताया कि हड़ताल में शामिल रहने वाले बेंगलुरु के प्रमुख अस्पतालों में अपोलो अस्पताल, सेंट जॉन्स अस्पताल, नारायण हृदयालय और सागर अस्पताल शामिल हैं.