पद्म सम्मान: पद्म विभूषण से नवाजी जाएंगी ये तीन विभूतियां

भारत सरकार ने इस साल दिए जाने वाले पद्म सम्मानों की घोषणा कर दी है. इस बार कुल 85 लोगों को पद्म सम्मान से नवाजा जाएगा, जिनमें से तीन को देश के दूसरे उच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया जाएगा.

पद्म सम्मान: पद्म विभूषण से नवाजी जाएंगी ये तीन विभूतियां
इलैयाराजा, गुलाम मुस्तफा खान और पी परमेश्वरन को मिलगा पद्म विभूषण

नई दिल्ली: भारत सरकार ने इस साल दिए जाने वाले पद्म सम्मानों की घोषणा कर दी है. इस बार कुल 85 लोगों को पद्म सम्मान से नवाजा जाएगा, जिनमें से तीन को देश के दूसरे उच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया जाएगा. गृह मंत्रालय की जानकारी के मुताबिक, इस साल सरकार को पद्म पुरस्कारों के लिए 15,700 से ज्यादा आवेदन मिले थे. जिन हस्तियों को पद्म विभूषण दिया जाएगा उनके नाम हैं- इलैयाराजा, गुलाम मुस्तफा खान और परमेश्वरन परमेश्वरन.

जानें कौन हैं इस साल पद्म विभूषण पाने वाली ये तीन विभूतियां


इलैयाराजा (तमिलनाडु)- कला और संगीत के क्षेत्र में अपने योगदान के लिए दक्षिण भारत के जानेमाने संगीतकार इलैयाराजा को पद्म विभूषण से नवाजा जाएगा. दक्षिण भारत की 1000 से ज्यादा फिल्मों में इलैयाराजा ने संगीत दिया है. उन्होंने करीब साढ़े छह हजार से ज्यादा गाने कंपोज किए हैं. साउथ की फिल्मों के साथ ही इलैयाराजा ने बॉलीवुड फिल्मों में भी संगीत दिया है.

गुलाम मुस्तफा खान (महाराष्ट्र)- कला और संगीत के ही क्षेत्र में पद्मश्री गुलाम मुस्तफा खान को पद्म विभूषण से नवाजा जाएगा. गुलाम मुस्तफा मशहूर गायक, म्यूजिक डायरेक्टर और शिक्षक के तौर पर जानें जाते हैं. उन्हें साल 1991 में पद्मश्री और साल 2006 में पद्म भूषण से नवाजा गया था. कई मशहूर प्लेबैक और क्लासिकल गायकों ने भी गुलाम मुस्तफा खान से प्रशिक्षण प्राप्त किया है.

पद्म पुरस्कार 2017: मिलिए '9 रत्न' से, किसी ने जड़ी-बूटी से बचाई हजारों जिंदगी, तो कोई 7वीं पास है महान समाजसेवक

परमेश्वरन परमेश्वरन (केरल)- साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में अपने अपूर्व योगदान के लिए केरल के परमेश्वरन परमेश्वरन को पद्म विभूषण के पुरस्कार से नवाजा जाएगा. केरल के पी परमेश्वरन हिंदू चिंतक एवं कमेंटेटर हैं. परमेश्वरन कन्याकुमारी के भारतीय विचार केंद्र (विवेकानंद केंद्र) के अध्यक्ष और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक भी हैं.

आतंकियों से लोहा लेने वाले शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को अशोक चक्र
18 नवंबर 2017 में जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को धूल चटाने वाले भारतीय वायु सेना के जवान गरुड़ कमांडो जेपी निराला को 69वें गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अशोक चक्र से सम्मानित किया. राजपथ पर जेपी निराला की पत्नी और मां को राष्ट्रपति ने अशोक चक्र दिया. निराला को अशोक चक्र से सम्मानित करते वक्त रामनाथ कोविंद की आंखे नम हो गई. अशोक चक्र देते हुए भीग गई राष्ट्रपति की आंखें