हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, नियंत्रण रेखा के पास चौकियों पर की गोलाबारी

भारत-पाक सीमा के पास पिछले 15 वर्षों में सबसे ज्यादा संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाएं 2018 में हुईं.  

हरकतों से बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, नियंत्रण रेखा के पास चौकियों पर की गोलाबारी
.(फाइल फोटो)

जम्मू: जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान की सेना ने अग्रिम चौकियों पर गोलीबारी कर मंगलवार को संघर्ष विराम का उल्लंघन किया. रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘पाकिस्तान की सेना ने रजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास शाम करीब सात बजे छोटे हथियारों से गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया. ’’ अधिकारियों ने बताया कि भारत-पाक फ्लैग मीटिंग में संयम बरतने और 2003 के संघर्ष विराम उल्लंघन का पालन करने की बार-बार की अपील के बावजूद पाकिस्तान ने संघर्ष विराम उल्लंघन जारी रखा है. नये साल की शुरुआत से ही पाकिस्तान के सैनिक जम्मू संभाग में नियंत्रण रेखा के पास नियमित रूप से संघर्ष विराम उल्लंघन कर रहे हैं.

जनवरी में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास भी संघर्ष विराम उल्लंघन के कुछ मामले सामने आए. भारत-पाक सीमा के पास पिछले 15 वर्षों में सबसे ज्यादा संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाएं 2018 में हुईं.  2018 में संघर्ष विराम उल्लंघन की 2936 घटनाएं सामने आईं.  इससे पहले भी राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास गोलाबारी कर पाकिस्तान ने मंगलवार (15 जनवरी) को एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था.

इस संघर्ष विराम में एक बीएसएफ का असिस्टेंट कमांडेंट शहीद हो गया था. आईबी पर कठुआ जिले के पांसर बार्डर आउट पोस्ट (बीओपी) को निशाना बनाकर पाकिस्तान ने स्नाइपर फायर किए. मंगलवार की सुबह 10.50 पाकिस्तान के चिनाब रेंजर की अबयाल डोगरा पोस्ट से की गई फायरिंग में 19 बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट विनय प्रसाद घायल हो गए.

उन्हें तत्काल हीरानगर अस्पताल ले जाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें जम्मू के सतवारी स्थित मिल्ट्री हॉस्पिटल में रेफर किया गया. आंतकियों के हमले में बुरी तरह घायल हुए असिस्टेंट कमांडेंट विनय प्रसाद ने अस्पताल पहुंचते ही दम तोड़ दिया.