close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बॉर्डर पर सेना बनी है रक्षक, पर हर भारतीय इंटरनेट यूजर कसे कमर तभी ध्वस्त होगा पाकिस्तान का यह प्लान

पाकिस्तान (Pakistan) साइबर की दुनिया में भारत के खिलाफ सबसे बड़ी जंग छेड़ने की फ़िराक में है और उसने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है.

बॉर्डर पर सेना बनी है रक्षक, पर हर भारतीय इंटरनेट यूजर कसे कमर तभी ध्वस्त होगा पाकिस्तान का यह प्लान
पाकिस्तान हर भारतीय इंटरनेट यूजर को टारगेट करने में लगा है.

नई दिल्ली: जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में अनुच्छेद 370 निष्क्रिय किए जाने के बाद से बौखलाया पाकिस्तान (Pakistan) वैसे तो भारत के खिलाफ कई साजिशें रच रहा है. ये अब तक सभी जान चुके हैं कि जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) समेत कई राज्यों में आतंकी साजिश रचकर शांति भंग करने के लिए पाकिस्तान (Pakistan) आमादा है. लेकिन खुफिया एजेंसियों को पाकिस्तान (Pakistan) की एक और नई साज़िश की जानकारी मिली है. सूत्रों की अगर माने तो पाकिस्तान (Pakistan) साइबर की दुनिया में भारत के खिलाफ सबसे बड़ी जंग छेड़ने की फ़िराक में है और उसने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है.

सूत्रों का दावा है कि पाकिस्तान (Pakistan) भारत के खिलाफ झूठ का बड़ा प्रोपोगंडा फैलाना चाहता है और इसके लिए उसने ब्लू प्रिंट भी तैयार कर लिया है. दरअसल, पाकिस्तान (Pakistan) दुनिया के कई देशों में ये झूठ फैलाना चाहता है कि अनुच्छेद 370 हटाने का मोदी सरकार का फैसला ना सिर्फ कश्मीरियों के खिलाफ लिया गया असवैंधानिक फैसला है, बल्कि भारत कश्मीरियों के साथ अमानवीय जुल्म भी कर रहा है. 

इस झूठ को फ़ैलाने के लिए फ़र्ज़ी सोशल मीडिया हैंडल से लेकर फोटोशॉप तस्वीरें तैयार करना इस साजिश का हिस्सा हैं. इतना ही नहीं सूत्रों को मिली जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान (Pakistan)ी हुक्मरानों ने रशियन हैकर्स की एक टीम को भी रिक्रूट किया है जो उनके लिए एक नई मॉडिफाइड इम्प्रूव्ड एंटी-इंडिया प्रोपोगेंडा तैयार कर रहा है. 
गौरतलब है कि एक रिपोर्ट के मुताबिक रशियन हैकरस नार्थ कोरियन हैकर्स से 7 गुना तेज़ हैं. पाकिस्तान (Pakistan) ने इस मिशन की ज़िम्मेदारी अपने इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एंड टेलीकम्यूनिकेशन मिनिस्ट्री को सौंपी है. इसी मिनिस्ट्री के तहत काम करने वाली एक नॉन प्रॉफिट आर्गेनाईजेशन IGNITE याने Ignite National Technology Fund इस मिशन को फंडिंग मुहैया कर रही है.
 
रक्षा मामलों के जानकार पीके जैन ने कहा कि इस मिशन में पाकिस्तान (Pakistan) चीन की मदद से गोल्डन शील्ड प्रोजेक्ट लाने की भी प्लानिंग कर रहा है, जिसके तहत अलग-अलग प्रोपोगेंडा के लिए विभिन्न डिपार्टमेंट्स तैयार किये गए हैं. मसलन, डोमेस्टिक प्रोपोगेंडा, ओवरसीज प्रोपोगेंडा, टेक्निकल प्रोपोगेंडा, नेशनल सिक्यूरिटी प्रोपोगेंडा जैसे अलग अलग डिपार्टमेंट एक इंटीग्रेटेड और मल्टी-लेयर्ड सिस्टम के तहत भारतीय अर्थव्यवस्था, फौज और इंटरनल सिक्यूरिटी जैसे मसलों को लेकर अफवाह फ़ैलाने की कोशिश करेंगी. 

लाइव टीवी देखें-:

चीन की टेक्नोलॉजी और रशियन हैकर्स के साथ भारत में छिपे अपने स्लीपर सेल की मदद से पाकिस्तान (Pakistan) इंटरनेट की दुनिया में भारत के खिलाफ चौतरफा हमला करने की ठान चुका है.

हाल ही में भारत में अपने सॉफ्टवेयर के लिए मशहूर एक रशियन साइबर सिक्यूरिटी कंपनी ने भी खुलासा करते हुए चेतावनी जारी की है कि कि अनुच्छेद 370 और 35A को हटाने के बाद भारत के खिलाफ बढ़ते साइबर अटैक को ध्यान में रखते हुए सरकार को और सचेत रहने की ज़रूरत है. 

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते ही पाकिस्तान (Pakistan) के इशारे पर हैकर्स ने बिहार एजुकेशन डिपार्टमेंट की वेबसाइट भी हैक की थी. Cyberthreat World-time Map के मुताबिक इस समय भारत सबसे ज्यादा साइबर अटैक झेलने वाला दुनिया में 7वां देश है. 

खुद आईटी मिनिस्टर रवि शंकर प्रसाद भी लोकसभा में लिखित जवाब दे चुके हैं कि चीन और पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से भारतीय साइबर स्पेस में साइबर अटैक लांच किये जा रहे हैं. ऐसा नहीं है कि सोशल मीडिया की बड़ी कंपनिया पाकिस्तान (Pakistan) के इस मंसूबे से बेखबर हैं. हाल ही में फेसबुक ने ईस्टर्न यूरोप और सेंट्रल एशिया के खिलाफ अफवाह फ़ैलाने वाले रशिया के ऐसे ही दो अलग कैंपेन का पर्दाफाश किया था. इसके अलावा फेसबुक का इस्तेमाल म्यांमार मिलिट्री के द्वारा रोहिंग्या के खिलाफ प्रोपोगंडा के लिए भी किया गया था. पाकिस्तान (Pakistan) के इस खतरनाक मिशन की ख़ुफ़िया जानकारी मिलने के बाद भारतीय एजेंसियां भी तमाम स्टेक होल्डर्स के साथ मिलकर अपनी रणनीति तैयार करने में जुट चुकी है.

इनुपट: संजय सिंह