बड़ा खुलासा! जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले के लिए पाकिस्तान ने दो नए आतंकी संगठन तैयार किए

 ज़ी न्यूज को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक इन दोनों आतंकी ग्रुपों का नाम द रिजिटेंस फ्रंट (The Resistance Front’) और तहरीक ए मिल्लत इस्लामी ( Tehreek-i-Milat-i-Islami ) है. 

बड़ा खुलासा! जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले के लिए पाकिस्तान ने दो नए आतंकी संगठन तैयार किए
फाइल फोटो

नई दिल्ली: केन्द्रीय सुरक्षा एजेंसियों की एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान (Pakistan) की खुफिया एजेंसी ‘ISI’ ने जम्मू कश्मीर में दो नए आतंकी ग्रुप बनाए हैं, जिससे वो भारत में बड़े आतंकी हमले को अंजाम दे सके. ज़ी न्यूज को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक इन दोनों आतंकी ग्रुपों का नाम द रिजिटेंस फ्रंट (The Resistance Front’) और तहरीक ए मिल्लत इस्लामी ( Tehreek-i-Milat-i-Islami ) है. सुरक्षा एजंसियों के मुताबिक आतंकी संगठन लश्कर ए तोयब्बा की मदद से तैयार The Resistance Front’ (TRF) जिसका दूसरा नाम जेके फाइटर्स भी है वो पिछले दो महीने से एक्टिव है, जबकि  Tehreek-i-Milat-i-Islami (TMI) के बारे में सुरक्षा एजेंसियां और जानकारी जुटाने में लगे हुए हैं.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में इस वजह से नहीं की गई 1,75,000 लोगों की कोरोना जांच

तहरीक ए मिल्लत इस्लामी कमांडर नईम फिरदौस ने एक आडियो मैसेज जारी कर सभी आतंकियों से मिलकर सुरक्षा एजेंसियों पर हमले करने को कहा है. वहीं TRF कमांडर अबु अनस ने अपने ऑडियो मैसेज में भारत के मुसलमानों को भड़काने की साजिश कर रहा है. अबु अनस ने कश्मीरी नेता अल्ताफ बुखारी को जान से मारने की धमकी दी है. दोनों आतंकी  ग्रुप सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव भी हैं.

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक आतंकी संगठन पाक के ईशारे पर कश्मीरियों को आतंकी संगठन में शामिल कर सुरक्षा बलों पर हमले की साजिश में लगे हैं जिससे हमले के बाद पाकिस्तान पर कोई उंगली न उठा सके.

सुरक्षा एजेंसी से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक लाईन आफ कंट्रोल के पास बने लांचिग पैड पर करीब 450 आतंकी जमा हैं जो कश्मीर में घुसपैठ करने की फिराक में हैं. लांचिग पैड पर जमा इन आतंकियों के ग्रुप में 350 के करीब पाकिस्तानी मूल के आंतकी हैं.

ये भी देखें-

देखा जाये तो सबसे पहले आतंकी ग्रुप The Resistance Front  का नाम मार्च महीने में सामने आया था जब जम्मू कश्मीर पुलिस ने सोपोर से 4 आतंकियों को गिरफ्तार किया था. सभी ने पूछताछ में ये बताया था कि वो लश्कर के नये ग्रुप The Resistance Front  से जुड़े हैं और वो सभी टेलीग्राम पर एन्ड्रू जोन्स नाम के कमांडर के संपर्क में हैं. इन सभी के मुताबिक एन्ड्रू जोन्स व्हाट्स ग्रुप पर खान बिलाल के नाम से एक्टिव है. पूछताछ में सभी ने खुलासा किया था कि उन्हें सीमा पार से ये निर्देश दिये गये हैं कि वो नये ग्रुप में ज्यादा से ज्यादा लोकल लोगों को शामिल कर उनके जरिये आतंकी हमलें को अंजाम दें.