close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

स्कूलों को निशाना बनाकर पाकिस्तान ने की गोलाबारी, 217 बच्चों को बचाया गया

जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना के गोलाबारी के बीच राजौरी जिले के अधिकारियों ने बुधवार को तीन स्कूलों के 217 स्टूडेंट्स और 15 शिक्षकों को बचा लिया. ये सभी स्कूल में छह घंटे से ज्यादा वक्त तक फंस रहे. 

स्कूलों को निशाना बनाकर पाकिस्तान ने की गोलाबारी, 217 बच्चों को बचाया गया
पाकिस्तानी गोलीबारी की वजह से बच्चे 6 घंटे तक स्कूल में फंसे रहे.

जम्मू : जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना के गोलाबारी के बीच राजौरी जिले के अधिकारियों ने बुधवार को तीन स्कूलों के 217 स्टूडेंट्स और 15 शिक्षकों को बचा लिया. ये सभी स्कूल में छह घंटे से ज्यादा वक्त तक फंस रहे. इन बच्चों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए बुलेटप्रूफ गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया. 

नौशेरा और मंजाकोटा के स्कूल बंद किए गए

अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना की ओर से बार-बार गोलीबारी किए जाने की वजह से राजौरी जिले के नौशेरा और मंजाकोटा सेक्टर के स्कूलों को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है. 

पाकिस्तानी गोलीबारी में सेना के दो जवान शहीद

बता दें कि मंगलवार को एलओसी के पास पाकिस्तानी सेना की ओर से कई गांवों और सीमावर्ती इलाकों में मोर्टार बम दागे जाने की घटना में सेना के दो जवान शहीद हो गए और तीन स्थानीय लोगों समेत छह लोग घायल हो गए. अधिकारियों ने बताया कि आतंकवादियों ने भी पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से गुरेज सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश की थी, जिसे भारतीय सैनिकों ने नाकाम कर दिया और एक आतंकवादी को भी मार गिराया. 

8000 लोग गोलीबारी से प्रभावित 

बीते दो दिनों से पाकिस्तान की ओर से हो रही गोलाबारी के चलते 8,000 से अधिक लोग प्रभावित हैं और सीमा से पलायन करने वाले 3,361 लोगों ने शिविरों में शरण ली है. इस महीने एलओसी के पास पाकिस्तानी सेना के संघर्षविराम उल्लंघन की कई घटनाओं में छह सैनिक शहीद हो गये और तीन स्थानीय लोगों की मौत हो गयी तथा 18 लोग घायल हुए हैं।