पाक ने अधिकारियों के कथित उत्पीड़न पर भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर को तलब किया

एफओ ने कहा कि नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारियों, कर्मचारियों और ज्यादा पछतावे की बात यह है कि परिवार और बच्चे देश की एजेंसियों से‘‘ गहन उत्पीड़न, धमकी और स्पष्ट हिंसा का निरंतर सामना कर रहे हैं.’’ 

पाक ने अधिकारियों के कथित उत्पीड़न पर भारत के डिप्टी हाई कमिश्नर को तलब किया
दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग (फाइल फोटोः रॉयटर्स)

इस्लामाबादः पाकिस्तान ने नई दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारियों और उनके परिवारों के कथित उत्पीड़न पर भारतीय उपउच्चायुक्त जे पी सिंह को तलब किया और कहा कि इस तरह की‘‘ निंदनीय घटनाएं’’ विदेशी राजनयिकों को संरक्षण देने में भारत सरकार की‘‘ सहभागी अनिच्छा’’ दर्शाती हैं. पाकिस्तान विदेश कार्यालय (एफओ) ने मंगलवार रात जारी एक बयान में कहा कि महानिदेशक: दक्षिण एशिया एवं दक्षेस: मोहम्मद फैसल ने सिंह को तलब किया और‘‘ नई दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारियों और परिवारों के साथ दुर्व्यवहार पर कड़ा विरोध जताया है.’’ 

फैसल ने कहा कि वियना संधि के तहत, पाकिस्तानी राजनयिकों तथा उनके परिवारों की सुरक्षा भारत सरकार की जिम्मेदारी है. उन्होंने कहा, ‘‘ इन निंदनीय घटनाओं को रोकने, यहां तक कि बच्चों को नहीं बख्शने में भारत सरकार की पूर्ण उदासीनता और नाकामी भारत में तैनात विदेशी राजनयिकों की सुरक्षा की क्षमता में कमी या ज्यादा निंदनीय ऐसा करने में सहभागी अनिच्छा दर्शाती है.’’ 

यह भी पढ़ेंः बीजेपी नेता ने लिया जाधव की फैमिली की बेइज्जती का बदला ! PAK हाई कमिशन को भेजीं चप्पलें

एफओ ने कहा कि नयी दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारियों, कर्मचारियों और ज्यादा पछतावे की बात यह है कि परिवार और बच्चे देश की एजेंसियों से‘‘ गहन उत्पीड़न, धमकी और स्पष्ट हिंसा का निरंतर सामना कर रहे हैं.’’  बयान में कहा गया कि ये घटनाएं बीते कुछ दिन में तेजी से बढी हैं. इसमें कहा गया कि यह जानबूझकर गुंडागर्दी केवल एक घटना से जुड़ी नहीं है बल्कि इसकी कई घटनाएं हुई हैं जिसमें विशेष रूप से अधिकारियों तथा स्टाफ के बच्चों को निशाना बनाया गया.

(इनपुट भाषा से)