पाकिस्‍तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, पुंछ में नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी

थोड़े समय तक शांति के बाद पाकिस्तान ने बुधवार को फिर नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर मोर्टार और गोलियां दागते हुए पाकिस्तानी सैनिकों ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।

पाकिस्‍तान ने फिर तोड़ा सीजफायर, पुंछ में नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो

जम्मू : थोड़े समय तक शांति के बाद पाकिस्तान ने बुधवार को फिर नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर मोर्टार और गोलियां दागते हुए पाकिस्तानी सैनिकों ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। पुंछ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शमशेर हुसैन ने बताया कि आज सुबह पुंछ जिले के सुजैन सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर सीमा पार से गोलीबारी हो रही थी। रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी गोलीबारी और मोर्टार हमले आज 10 बजकर 45 मिनट पर रूके। उन्होंने कहा कि इस गोलाबारी में पाकिस्तानी सैनिकों ने 82 मिमी के मोर्टार बम दागे। उन्होंने आगे कहा कि सैन्य पक्ष से किसी की जान नहीं गई है।

किरनी एवं शाहपुर बेल्ट के अग्रिम इलाकों को भी पाकिस्तानी सैनिकों ने निशाना बनाया। उन्होंने कहा कि सीमा-पार से होने वाली इस गोलीबारी में कोई घायल नहीं हुआ है। रक्षा प्रवक्ता ने कहा कि सैनिकों ने पाकिस्तानी गोलीबारी का जवाब दिया। उन्होंने यह भी कहा कि इस दौरान किसी की जान नहीं गई।

जम्मू क्षेत्र के मंडलीय आयुक्त शांत मनु ने आज कहा कि पिछले कुछ दिनों में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान द्वारा कोई गोलीबारी नहीं की गई। वहां शांति है। हालांकि उन्होंने यह कहा कि नियंत्रण रेखा पर पुंछ की सुजैन बेल्ट में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी जारी है। एक अक्तूबर से ही जम्मू क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान के सैनिक भारी गोलीबारी और मोर्टार से हमले कर रहे हैं। इस गोलीबारी में आठ लोग मारे जा चुके हैं और 94 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं। घायल लोगों में 13 सुरक्षाकर्मी भी शामिल हैं।

इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बसे 113 गांवों के 30 हजार से ज्यादा लोग अपने मकान छोड़कर चले गए हैं। गौर हो कि भारत और पाकिस्तान के बीच बीते एक अक्‍टूबर से भीषण गोलीबारी हो रही है और मोर्टार से गोले दागे जा रहे हैं। जिसके चलते सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, वहीं दर्जनों अन्‍य लोग अब तक घायल हो गए हैं।

(एजेंसी इनपुट के साथ)