close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

टेरर फंडिंग मामला: कश्मीर के पूर्व विधायक राशिद इंजीनियर को 14 दिन की न्यायिक हिरासत

उत्तरी कश्मीर की लंगेट विधानसभा सीट से विधायक रहे राशिद मुख्यधारा के ऐसे पहले नेता हैं, जिनको टेरर फंडिंग के मामले में गिरफ्तार किया गया है.

टेरर फंडिंग मामला: कश्मीर के पूर्व विधायक राशिद इंजीनियर को 14 दिन की न्यायिक हिरासत
कई अलगाववादी नेता जैसे शब्बीर शाह, मसरत आलम और आसिया अंद्राबी जम्मू एवं कश्मीर में आतंकी-फंडिग को लेकर पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं.

राकेश सिंह/नई दिल्‍ली: पटियाला हाउस की एनआईए कोर्ट ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक शेख अब्दुल राशिद उर्फ राशिद इंजीनियर को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इससे पहले एनआईए ने 2017 में राशिद से टेरर फंडिंग केस में पूछताछ की थी. बता दें कि पहले भी पटियाला हाउस कोर्ट ने राशिद इंजीनियर की रिमांड अवधि 21 अगस्त तक बढ़ा दी थी.

गौरतलब है कि राशिद इंजीनियर को एनआईए ने टेरर फंडिंग मामले में गिरफ्तार किया है. उत्तरी कश्मीर की लंगेट विधानसभा सीट से विधायक रहे राशिद मुख्यधारा के ऐसे पहले नेता हैं, जिनको टेरर फंडिंग के मामले में गिरफ्तार किया गया है. इससे पहले एनआईए ने 2017 में राशिद से टेरर फंडिंग केस में पूछताछ की थी. 

इससे पहले बीते 10 अगस्‍त में जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व विधायक राशिद इंजीनियर को शनिवार को 26/11 के मास्टरमाइंड हाफिज सईद से जुड़े आतंकी फंडिंग मामले में दिल्ली की एक अदालत ने चार दिनों की एनआईए हिरासत में भेज दिया था. राशिद को ड्यूटी मजिस्ट्रेट धर्मेंद्र सिंह के सामने पेश किया गया था. एजेंसी आरोपी को 10 दिनों के रिमांड पर मांगा, लेकिन अदालत ने चार दिन की हिरासत में भेज दिया था. इंजीनियर कश्मीरी व्यापारी जहूर वताली से पैसे लेने का आरोपी है.

कई अलगाववादी नेता जैसे शब्बीर शाह, मसरत आलम और आसिया अंद्राबी जम्मू एवं कश्मीर में आतंकी-फंडिग को लेकर पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं.