बेमौसम बर्फबारी से कांप रहे कश्मीर घाटी के लोग, 17 नवंबर के बाद सुधरेंगे हालात

स्थानीय रशीद राहिल ने बताया कि इस बार चिले कलां से पहले ही भीषण सर्दी का अहसास होने लगा है. बर्फबारी के बाद हड्डियां जमा देने वाली ठंड पड़ रही है. हुमें इससे बचने के लिए विभिन्न साधनों का इस्तेमाल करना पड़ रहा है. 

बेमौसम बर्फबारी से कांप रहे कश्मीर घाटी के लोग, 17 नवंबर के बाद सुधरेंगे हालात

श्रीनगर: बेमौसम बर्फबारी ने घाटी में शीतलहर जारी है. कठोर ठण्ड के कारण लोग ठिठुर रहे हैं. मौसम विभाग ने अगले 24 घण्टों तक घाटी में बर्फ और बारिश होने की भविष्वाणी की है. श्रीनगर समेत कश्मीर घाटी के अन्य इलाकों में समय से पहले नवंबर के पहले सप्ताह में हुई भीषण बर्फबारी और लगातार पहाड़ों पर बर्फ और मैदानों में हो रही बारिशों के चलते कश्मीर के स्थानीय लोगों को भीषण ठंड झेलनी पड़ रही है. मौसम के बिगड़े मिजाज के चलते बढ़ती ठंड और उसपर कई इलाकों में बिजली में कटौती से लोगों को दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है. 

एक स्थानीय रशीद राहिल ने बताया कि इस बार चिले कलां से पहले ही भीषण सर्दी का अहसास होने लगा है. बर्फबारी के बाद हड्डियां जमा देने वाली ठंड पड़ रही है. हुमें इससे बचने के लिए विभिन्न साधनों का इस्तेमाल करना पड़ रहा है. बशीर अहमद नामी एक अन्य स्थानीय ने कहा कि सुबह के समय दो दिनों से काफी धुंध पड़ रही है और सुबह करीब 10 बजे के बाद ही होती है. उन्होंने कहा कि इस ठंड को देख लगता है कि आने वाले दिन और कठिनाइयों भरे रहेंगे. वहीं घाटी में पिछले 24 घंटो से लगातार मैदानी इलाकों में बारिशों का सिलसिला जारी है और इस दौरान कश्मीर और लद्दाख के ऊपरी इलाकों में हल्की बर्फबारी भी हुई है. मिली जानकारी के अनुसार विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल गुलमर्ग में करीब 6 इंच से अधिक ताज़ा बर्फ पड़ी है.

घाटी आये पर्यटक ठण्ड तो महसूस कर रहे हैं, मगर यहां के नजारों को देखकर ठण्ड को भूलकर उनमें खो जाते हैं. कश्मीर में बर्फ़बारी देखने सैकड़ों पर्यटक कश्मीर पहुंचे हैं और यहां के पर्यटन स्थलों में जाकर कुदरत के नजारों का आनंद ले रहे हैं. एक पर्यटक ने कहा कि यहां ठण्ड ज़रूर है, मगर यहां के जो नज़ारे हैं उनके सामने यह ठण्ड कुछ नहीं है यह कुदरत का अद्भूत नजारा है.

मौसम विभाग के निर्देशक सोनम लोटस ने बताया कि घाटी में अगले 24 घंटों तक मौसम के मिजाज ऐसे ही बिगड़े रहेंगे. मैदानी इलाकों में बारिश के साथ-साथ हल्की बर्फबारी जबकि ऊपरी इलाकों में भीषण बर्फबारी की संभावना बनी हुई है. इतना ही नहीं उन्होंने यह भी बताया कि 17 नवंबर के बाद मौसम में हल्का सुधार होने की संभावना है. 

गौरतलब है कि घाटी में मौसम के बिगड़े मिजाज के कारण श्रीनगर-जम्मू, श्रीनगर लेह, श्रीनगर पूछ (मुग़ल रोड) राष्ट्रीय राजमार्ग फिर से बंद हुए हैं. अधिकारियों के अनुसार गुरुवार रात से हो रही बारिशों और बर्फबारी के कारण राजमार्ग पर कई जगहों पर भूस्खलन के कारण इस राजमार्ग पर यातायात को ऐतिहातन तौर पर रोक दिया गया है.

ये भी देखें-: