Corona के इलाज में ऐसे उठाएं 'Ayushman Bharat Yojana' का लाभ, जानें जरूरी बातें

कोरोना वायरस (Coronavirus) मरीजों के इलाज के लिए केंद्र सरकार (Central Government) भारतीयों को 5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता मुहैया करा रही है. इसके लिए बस आपको आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) का हिस्सा बनना होगा. इतना करने के बाद, कोरोना की जांच और इलाज में खर्च होने वाला 5 लाख रुपये तक का बिल केंद्र सरकार अदा करेगी.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | May 09, 2021, 22:41 PM IST
1/7

आयुष्मान भारत से होगा कोरोना का इलाज

Ayushman will be treated for corona from India

आपको याद होगा कि कोविड-19 महामारी की शुरुआत में ही सरकार ने कोरोना की जांच और इलाज को ‘आयुष्मान भारत योजना’ में शामिल कर दिया था. वहीं कुछ राज्य सरकारों ने तो योजना का दायरा ऑक्सीजन की आपूर्ति से लेकर अनिवार्य दवाओं के खर्च को पूरा करने तक बढ़ा दिया है.

2/7

अस्पताल में भर्ती होने पर ही मिलेगा क्लेम

Claim will be given only after hospitalization

आयुष्मान भारत योजना के तहत किसी भी बीमारी का इलाज पाने के लिए आपको कम से कम एक दिन अस्पताल में भर्ती होना पड़ता है. ऐसे में अगर टेस्टिंग के दौरान आप कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं, औ आपको क्वारंटीन होना पड़ता है तो आपको योजना का लाभ मिलेगा और टेस्टिंग से लेकर अस्पताल से डिस्चार्ज होने तक आपको एक रुपया भी खर्च नहीं करना पड़ेगा. 

3/7

हर साल 5 लाख रुपये का मिलता है लाभ

Every year, you get a profit of 5 lakh rupees

असल शब्दों में कहें तो आयुष्मान भारत योजना के तहत देश के गरीब, वंचित और कमजोर तबके के 10 करोड़ परिवारों को स्वास्थ्य बीमा की सुविधा मिलती है. यानी हर परिवार को सालाना 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा मिलता है. 

4/7

3 दिन पहले 15 दिन बाद तक का इलाज फ्री

Free treatment up to 15 days after 3 days

इस योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने से मरीज को 3 दिन पहले और 15 दिन बाद तक का इलाज और दवाइयां मुफ्त सरकार फ्री में मुहैया कराती है. इसके लिए योजना में 1,393 पैकेज शामिल किए गए हैं, जो अस्पताल में आईसीयू, लेबोरेटरी टेस्ट, अस्पताल में रहने और खाने के खर्चे इत्यादि को भी कवर करते हैं. 

5/7

प्राइवेट अस्पताल में भी करा सकते हैं इलाज

You can also be treated FREE in a private hospital

बताते चलें कि इस योजना के तहत सरकारी अस्पताल के अलावा कुछ प्राइवेट अस्पतालों को भी पैनल में शामिल किया गया है. यानी आप प्राइवेट अस्पताल में भी फ्री इलाज करा सकते हैं. बस शर्त यही है कि वो हॉस्पिटल पैनल में होना चाहिए. इसकी जानकारी आपको हॉस्पिटल की रिशेप्शन डेस्क या www.pmjay.gov.in पर विजिट करके मिल जाएगी.

6/7

कौन-कौन उठा सकते हैं इस योजना का लाभ?

Who can avail this scheme?

ग्रामीण इलाके में आयुष्मान भारत योजना का लाभ वही लोग उठा सकते हैं, जिसका कच्चा मकान हो, परिवार में कोई अडल्ट न हो या परिवार की मुखिया कोई महिला हो, परिवार में कोई दिव्यांग हो, परिवार SC/ST से हो या व्यक्ति भूमिहीन/दिहाड़ी मजदूर बेघर, निराश्रित, दान या भीख मांगने वाला हो. वहीं शहरी इलाकों में कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कामकाज करने वाले, रेहड़ी-पटरी वाले, फेरी वाले, प्लंबर, मजदूर, पेंटर, वेल्डर, सिक्योरिटी गार्ड, कुली, सफाईकर्मी, रिक्शाचालक आदि इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. 

7/7

इन डॉक्यूमेंट्स की पड़ेगी जरूरत

You can also be treated in a private hospital

आयुष्मान भारत योजना से जुड़ने के लिए आपको आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड, जैसे पहचान पत्र दिखाने होंगे और उनकी फोटो कॉपी फॉर्म के साथ लगाकर जमा करनी होगी. आपके फॉर्म को अप्रुवल मिलने पर आपके घर आयुष्मान भारत के कार्ड भेज दिए जाएंगे.