#IndiaKaDNA: अगले 10 साल में देश में चलेंगी हाई स्‍पीड ट्रेनें- रेल मंत्री

'इंडिया का DNA E-Conclave' में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा..

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Jun 07, 2020, 21:17 PM IST

नई दिल्‍ली: 'इंडिया का DNA E-Conclave' में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, 'पीएम मोदी के नेतृत्‍व में देश सुरक्षित है. कोरोना ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया है. भारत में यूरोप, अमेरिका की तुलना में बहुत कम मौतें हुई हैं.'

1/6

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पीएम मोदी के आत्‍मनिर्भर भारत की संकल्‍पना से आशय भारत की अन्‍य देशों पर निर्भरता को कम करना है. पीएम मोदी की कल्‍पना सशक्‍त भारत है. लोकल को बढ़ावा देने का मकसद ग्‍लोबल से खुद को काटना नहीं है बल्कि भारत को मजबूत करना है. भारत की अर्थव्‍यवस्‍था सुरक्षित है. भारत की क्षमता, उत्‍पादन को बढ़ाना है.

2/6

रेल मंत्री ने Zee News के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी से बातचीत करते हुए कहा कि कुछ न्यूज चैनलों ने हमारी सरकार के खिलाफ एक एजेंडा के तहत झूठी खबरें ज्‍यादा चलाईं कि ट्रेनों में लोग मर रहे हैं और ट्रेन अपना रास्ता भूल गई. जबकि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. एक भी व्यक्ति की ट्रेन में यात्रा की वजह से मौत नहीं हुई. ट्रेन कभी भी रास्ता नहीं भूली जबकि उसका रूट डायवर्ट किया गया था. मुझे इस बात की खुशी है कि ZEE NEWS ने इस मामले में कोई गलत खबर नहीं दिखाई.

3/6

कोरोना संकट पर पीयूष गोयल ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्‍व में देश सुरक्षित है. कोरोना ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया है. भारत में यूरोप, अमेरिका की तुलना में बहुत कम मौतें हुई हैं.

4/6

पीयूष गोयल ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान जितनी ट्रेंने राज्‍यों ने केंद्र से मांगी, उतनी दी गईं. यूपी, बिहार के लिए विशेष रूप से श्रमिक ट्रेनें चलाई गईं. कुछ ट्रेनें जरूर डायवर्ट की गईं लेकिन आंकड़ों के लिहाज से देखें तो ऐसी ट्रेनों की संख्‍या दो प्रतिशत से भी कम थी. इसका एक बड़ा कारण रूटों का कंजेशन रहा.

5/6

रेल मंत्री ने बताया क‍ि मोदी सरकार में लोगों की सुरक्षा पर बहुत जोर दिया है. बजट में रेलवे सेफ्टी के मद में एक लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया. इसका असर ये हुआ कि 2019-20 में एक भी रेल दुर्घटना नहीं हुई. इस वजह से किसी भी व्‍यक्ति की इस अवधि में मृत्‍यु नहीं हुई. पिछले 20 वर्षों के आंकड़ों पर यदि नजर डालें तो ये अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है.

6/6

पीयूष गोयल ने ये भी कहा कि भविष्‍य का ऐसा खाका खींचा जा रहा है कि अगले 10 सालों के भीतर सेमी स्‍पीड, हाई स्‍पीड ट्रेनें दिखाई देंगी. रेलवे स्‍टेशनों का पूरी तरह कायाकल्‍प हो चुका होगा. रेलवे कोचों को बेहतर डिजाइन किया जाएगा ताकि लोगों की यात्राएं सुगम, सुविधाजनक हो सके.