close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

संसद में गतिरोध खड़ा कर रहा है गांधी परिवार, काम में पैदा कर रहा विघ्न : पीएम मोदी

उत्‍तर-पूर्व के दौरे पर शुक्रवार को गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के डिब्रूगढ़ में बीजेपी के लिए चुनावी शंखनाद किया। संसद में बाधा के लिए गांधी परिवार को जिम्मेदार ठहराते हुए आरोप लगाया कि वे लोकसभा चुनाव में हार का बदला ले रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि मेरा विरोध करने वालों में भी विपक्षी दलों में ऐसे नेता हैं जो चाहते हैं कि संसद में कामकाज हो लेकिन एक परिवार राज्यसभा में कामकाज नहीं चलने देने पर अड़ा हुआ है। विपक्ष में ऐसे नेता हैं जो संसद को चलने देना चाहते हैं जबकि वे मेरा विरोध करते हैं, लेकिन एक परिवार राज्यसभा को न चलने देने पर अड़ा है।

संसद में गतिरोध खड़ा कर रहा है गांधी परिवार, काम में पैदा कर रहा विघ्न : पीएम मोदी

नई दिल्‍ली : उत्‍तर-पूर्व के दौरे पर शुक्रवार को गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के डिब्रूगढ़ में बीजेपी के लिए चुनावी शंखनाद किया। संसद में बाधा के लिए गांधी परिवार को जिम्मेदार ठहराते हुए आरोप लगाया कि वे लोकसभा चुनाव में हार का बदला ले रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि मेरा विरोध करने वालों में भी विपक्षी दलों में ऐसे नेता हैं जो चाहते हैं कि संसद में कामकाज हो लेकिन एक परिवार राज्यसभा में कामकाज नहीं चलने देने पर अड़ा हुआ है। विपक्ष में ऐसे नेता हैं जो संसद को चलने देना चाहते हैं जबकि वे मेरा विरोध करते हैं, लेकिन एक परिवार राज्यसभा को न चलने देने पर अड़ा है।

गौर हो कि प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार को असम पहुंचे और डिब्रूगढ़ में दो बड़ी परियोजनाओं का उद्धघाटन किया, जिसमें एक मेगा पेट्रोकेमिकल प्रोजेक्ट भी शामिल है। डिब्रूगढ़ में आज एक आम सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कई घोषणाऐं भी कीं। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा, विपक्ष हमारे काम रुकावट डालता है और संसद की कार्यवाही नहीं चलने देता है। विपक्ष राज्‍यसभा नहीं चलने दे रहा है और गरीबों के लिए काम नहीं करने देता है। असम में अब गरीबों की सुनने वाली सरकार चाहिए। मजदूरों के लिए जीने वाली सरकार चाहिए। पीएम ने राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्‍मीदवार केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल के नाम का दो बार जिक्र किया। परियोजनाओं के उद्घाटन के बाद मोदी ने कहा कि इन दोनों परियोजना के शुरुआत से पूरे हिंदुस्तान में 'आनंद' हैं और असम में 'सर्वानंद' हैं। फिर उन्‍होंने कहा कि इन दोनों परियोजना को अगर 25 वर्ष पहले पूरा कर लिया जाता तो पूरे असम में सर्वानंद का माहौल होता। जाहिर है कि पीएम की ओर से इन शब्‍दों का चयन निश्चित रूप से आगामी विधानसभा के चुनाव के मद्देनजर किया गया। इस मौके पर मंच पर सर्वानंद सोनोवाल भी मौजूद थे।

उन्होंने कहा कि इस तरह की परियोजना को 25 साल पहले पूरा कर दिया जाना चाहिए था और इसके उद्घाटन का मौका उन्‍हें मिलना ही नहीं चाहिए था। शायद इन परियोजना का शुभारंभ का सौभाग्‍य उनके हाथों में ही लिखा था। हालांकि उन्‍होंने दावा किया कि उनकी सरकार बिना किसी राग-द्वेष की पुरानी और वर्षों से चल रही परियोजना के लिए पर्याप्त राशि का प्रबंध कर रही है।

गौर हो कि असम में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र पीएम मोदी का यह दौरा काफी अहम है।