close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ओडिशा में प्रधानमंत्री मोदी ने बताया, आखिर क्या है 'विकास की पंचधारा'

नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार विका की पंचधारा पर काम कर रही है. बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बेरोजगारों को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई.

ओडिशा में प्रधानमंत्री मोदी ने बताया, आखिर क्या है 'विकास की पंचधारा'
फोटो साभार : ANI

नई दिल्ली : लोकसभा चुनावों से पहले तीसरी बार ओडिशा दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बलांगीर में कार्यक्रम को संबोधित किया. मल्टी-मॉडल लोजिल्टिक पार्क का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार विकास की पंचधारा पर काम कर रही है. बच्चों को पढ़ाई, युवा को कमाई, बुजुर्गों को दवाई, किसानों को सिंचाई और जन-जन की सुनवाई.

पीएम मोदी दी ने बरपाली-डुंगरीपाली के 14.2 किलोमीटर और 17.354 किलोमीटर की बलांगीर-देवगांव रेलवे लाइनों के दोहरीकरण का उद्घाटन किया. यह 181.54 किलोमीटर की संबलपुर-टिटलागढ़ रेल पटरी के दोहरीकरण की परियोजना का हिस्सा है. उन्होंने झारसुगुड़ा में ‘मल्टी मॉडल लाजिस्टिक्स पार्क (एमएमएलपी) का लोकार्पण किया. इस एमएमएलपी को 100 करोड़ रुपए की लागत से पूरा किया गया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने 115 करोड़ रुपए की लागत से तैयार 15 किलोमीटर लंबी बलांगीर-बिछुपाली रेलवे लाइन का भी उद्घाटन किया. यह 289 किलोमीटर लंबी बलांगीर-खुर्दा लाइन का हिस्सा है. यह लाइन खुर्दा रोड पर हावड़ा-चेन्नई मुख्य लाइन और बलांगीर में टिटलागढ़-संबलपुर लाइन को जोड़ती है.

मोदी ने ओड़िशा में बलांगीर-बिछुपाली मार्ग पर नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाई जो क्षेत्र के यात्रियों की सहूलियत बढ़ाएगी. इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने थेरूवली और सिंगापुर रोड स्टेशन के बीच 27.4 करोड़ रुपए की लागत से बने पुल का भी उद्घाटन किया. यह पुल नागावली नदी के ऊपर संपर्क फिर से स्थापित करता है जो जुलाई 2017 में आई बाढ़ में नष्ट हो गया था. 

इसके अलावा उन्होंने बौध जिले में नीलमाधव और सिद्धेश्वर मंदिर, बौध में ही स्थित पश्चिम सोमनाथ मंदिरों और बलांगीर में रानीपुर झरियाल स्मारकों के नवीनीकरण एवं जीर्णोद्धार संबंधी कार्यों का उद्घाटन किया. उन्होंने जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, पुरी, फूलबनी, बारगढ़ और बलांगीर में छह पासपोर्ट सेवा केंद्रों का उद्घाटन किया. प्रधानमंत्री मोदी ने सोनपुर में 15.81 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली, केंद्रीय विद्यालय की स्थायी इमारत की भी आधारशिला रखी.

बीजेपी की टिकी हुई है निगाहें
गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी की नजर ओडिशा समेत अन्य पूर्वी राज्यों में है. लोकसभा के अलावा राज्य में विधानसभा चुनाव भी होने हैं, ऐसे में बीजेपी यहां पूरी जोर आजमाइश कर रही है. गौरतलब है कि यहां कुल 21 लोकसभा सीटें हैं और 147 विधानसभा सीटें हैं. बीजेपी का लक्ष्य 120 से अधिक विधानसभा सीटें जीतने पर है.

दौरे से पहले ही हुआ विवाद
प्रधानमंत्री का ओडिशा दौरा होने से पहले ही यहां विवाद होता नजर आया. यहां बेलांगिर में प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर के लिए बनने वाले हेलिपैड को तैयार करने के लिए पेड़ों के काटने पर विवाद हुआ था. बलांगीर के संभागीय वन अधिकारी (DFO) के अनुसार, यहां करीब 1000 पेड़ बिना किसी अनुमति के काट दिए गए. इसको लेकर जांच के आदेश भी दिए गए हैं.