close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत के लिए रवाना हुए PM मोदी, कहा- 'Howdy Modi' कार्यक्रम को कभी नहीं भूला पाऊंगा

भारत के लिए रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने अपने अमेरिकी दौरे को बहुत 'उत्पादक' बताया.  

भारत के लिए रवाना हुए PM मोदी, कहा- 'Howdy Modi' कार्यक्रम को कभी नहीं भूला पाऊंगा
(फोटो साभार - ANI)

नई दिल्ली: हफ्ते भर का अमेरिका (US) दौरा खत्म कर पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं. रास्ते में पीएम मोदी तकनीकी कारणों से जर्मनी (Germany) के फ्रैंकफर्ट(Frankfurt) में कुछ घंटों के लिए रुकेंगे. भारत (India) के लिए रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने अपने अमेरिकी दौरे को बहुत 'उत्पादक' बताया.  

अपने इस दौरे में पीएम मोदी ने कई महत्वपूर्ण कार्यक्रमों में शिरकत की, राष्ट्राध्यक्षों से मुलाकात की. पीएम मोदी ने ह्यूस्टन में हाऊडी मोदी (Howdy Modi) कार्यक्रम में शिरकत की जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) भी शामिल हुए.  शुक्रवार को पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) को संबोधित किया. 

स्वदेश रवाना होने से पहले पीएम ने अपने एक ट्वीट में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिका के लोगों को असाधारण स्वागत के लिए धन्यवाद किया, और कहा कि वह हाउडी मोदी कार्यक्रम को कभी भूल नहीं पाएंगे, जिसे ट्रंप ने अपनी उपस्थिति से खास बना दिया.

स्वदेश रवाना होने से पहले किए गए एक ट्वीट में उन्होंने कहा, 'मैं असाधारण स्वागत और गर्मजोशी के लिए अमेरिका के लोगों के प्रति आभार व्यक्त करना चाहूंगा. मैं धन्यवाद भी कहना चाहूंगा. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिकी कांग्रेस व सरकार के अन्य सम्मानित सदस्यों को धन्यवाद.'

पीएम मोदी ने कहा, 'जहां भी मैं गया, जिससे भी मिला, चाहे विश्व नेता रहा हो, उद्योगपति या नागरिक, हर किसी में भारत के प्रति आशावाद की एक जोरदार भावना देखने को मिली. स्वच्छता, स्वास्थ्य देखभाल और गरीबों के सशक्तिकरण के लिए भारत के प्रयासों की अपार प्रशंसा सुनने को मिली.'

मोदी ने कहा, 'सामुदायिक जुड़ाव भारत-अमेरिका संबंधों का केंद्रीय तत्व है. मैं हाउडी मोदी कार्यक्रम कभी नहीं भूल पाऊंगा, जो अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की उपस्थिति से अधिक खास बन गया. इससे यह साबित होता है कि वह व्यक्तिगत रूप से और उनका देश भारत संग संबंधों को और साथ ही हमारे प्रतिभाशाली प्रवासियों की भमिका को कितना महत्व देते हैं.'