close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गुवाहाटी में बोले मोदी: मुश्किल था नोटबंदी का फैसला, लेकिन जनता ने साथ दिया

प्रधानमंत्री मोदी आसाम के दौरे पर हैं वहां के खानपारा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि हिंदुस्तान में पहली बार ईमानदारी का अवसर आया है. मुझे कई बार कठोरता से फैसले लेने पड़े और कालेधन पर जनता से किए वादे पूरे करुंगा.

गुवाहाटी में बोले मोदी: मुश्किल था नोटबंदी का फैसला, लेकिन जनता ने साथ दिया
गुवाहाटी के खानपारा में बोले पीएम मोदी, 'कालेधन पर जनता से किए वादे पूरे करुंगा'

गुवाहाटी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (26 मई) को कहा कि उनके लिए नोटबंदी का फैसला बहुत मुश्किल निर्णय था, लेकिन जनता उनके साथ खड़ी हुई. भाजपा नीत राजग सरकार के तीन साल पूरे होने के मौके पर मोदी ने उनकी सरकार द्वारा किये गये हर फैसले में उनके साथ खड़े होने के लिए देश की सवा सौ करोड़ की जनता का धन्यवाद दिया.

मोदी ने यहां एक जनसभा में कहा, ‘नोटबंदी बहुत मुश्किल फैसला था. (विपक्षी) नेताओं ने गुस्सा पैदा करने तथा लोगों को उकसाने का प्रयास किया. लेकिन जनता के आशीर्वाद से मेरी सरकार ने सभी समस्याओं का मुकाबला किया.’ उन्होंने कहा, ‘मुश्किल फैसलों के बावजूद हमारा समर्थन बढ़ा. लोग अब बदलाव देख सकते हैं.’ 

कालेधन के मुद्दे पर मोदी ने कहा, ‘हमने केन्द्रीय कैबिनेट की पहली ही बैठक में काले धन के खिलाफ मजबूत कदम उठाने का फैसला किया था. भ्रष्टों के पास से जब्त कालाधन गरीबों के पास वापस जाएगा. मैं समस्याओं का सामना करूंगा लेकिन ऐसा करने से नहीं झिझकूंगा क्योंकि मैंने जनता से इसका वादा किया है.’

इससे पहले शुक्रवार को दोपहर में प्रधानमंत्री मोदी ने अरुणाचल और असम को जोड़ने वाले असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर देश के सबसे बड़े पुल ढोला-सादिया का उद्घाटन किया, इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि ये पुल पैसै और समय तो बचाएगा ही साथ ही नई अर्थ क्रांति का भी आगाज़ होगा.

देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी असम के तिनसुकिया में जनता को संबोधित करते हुए कहा कि अनेक वर्षों से जिसकी प्रतीक्षा कर रहे थे उस पुल की शुरुआत हो गई है. मोदी ने कहा कि आज उत्सव मनाया जा रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर कहा कि अरुणाचल के अदरक किसानों के लिए ये पुल नया रास्ता खोलेगा, पुल के माध्यम से अदरक का ग्लोबल मार्केट तैयार हो सकता है.इस पुल से रोजाना करीब 10 लाख रुपयों की बचत होगी.

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये पुल दो राज्यों के बीच विकास की कड़ी बनेगा. गौरतलब है कि मोदी सरकार ने आज 26 मई को सत्ता में अपने तीन साल पूरे कर लिए हैं. इस मौके पर मोदी सरकार ने देश को सबसे लंबे पुल के रूप में तोहफा दिया है.