भारत में गांव का प्रधान हो या देश का प्रधानमंत्री कोई नियमों से ऊपर नहीं, यहां पढ़ें PM मोदी की 10 बड़ी बातें

पीएम मोदी ने लोगों से दो गज की दूरी और मास्क पहनने और नियमों का सख्ती से पालक करने का आग्रह किया. पीएम ने लोगों के स्वास्थ्य की कामना करते हुए भाषण का अंत किया. 

भारत में गांव का प्रधान हो या देश का प्रधानमंत्री कोई नियमों से ऊपर नहीं, यहां पढ़ें PM मोदी की 10 बड़ी बातें
Play

नई दिल्ली: देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना संकट के बीच देश में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. कल से अनलॉक 2 शुरू हो जाएगा. पीएम ने चिंता जताई कि लॉकडाउन के दौरान लोगों ने सतर्कता बरती लेकिन अनलॉक शुरू होते ही लोगों ने लापरवाही शुरू कर दी. पीएम ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम अनलॉक-2 में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार और न जाने क्या-क्या होता है. हमें अब और ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है. विशेषकर कन्टेनमेंट जोन्स पर हमें बहुत ध्यान देना होगा. जो भी लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं, हमें उन्हें टोकना होगा, रोकना होगा और समझाना भी होगा. यहां पढ़ें पीएम नरेंद्र मोदी की बड़ी बातें... 

1. हमें फिर से कोरोना से बचने के लिए नियमों का सख्ती से पालन करना होगा.

2. एक देश के प्रधानमंत्री पर 13 हजार का जुर्माना लगा क्योंकि वो सार्वजनिक स्थान पर बिना मास्क पहने गए थे. 

3. भारत में देश का प्रधानमंत्री हो या फिर गांव का प्रधान हो, कोई भी नियमों से ऊपर नहीं है. 

ये भी पढ़ें- नवंबर तक पीएम गरीब कल्‍याण योजना का विस्‍तार, 80 करोड़ लोगों को मिलेगा मुफ्त राशन: PM मोदी

4. लॉकडाउन के दौरान सरकार ने सुनिश्चित किया कि देश का कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए. बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं. 

5. 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा जमा हुए. 

6. कोरोना से लड़ते हुए भारत में 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को 3 महीने का राशन यानी परिवार के हर सदस्य को 5 किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया गया.

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार चीन को दे सकती है एक और बड़ा झटका, देश में उठी ये मांग

7. मॉनसून के दौरान और उसके बाद मुख्य तौर पर कृषि क्षेत्र में ज्यादा काम होता है. अन्य सेक्टर में थोड़ी सुस्ती होती है. जुलाई से त्योहारों का माहौल बनने लगता है. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार छठ पूजा तक कर दिया जाएगा. 

8. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली, छठ पूजा तक यानी नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाएगा. गरीब कल्याण अन्न योजना के इस विस्तार में 90 हजार करोड़ रु. से ज्यादा खर्च होंगे. अगर इसमें पिछले 3महीने का खर्च जोड़ दें तो ये करीब डेढ़ लाख करोड़ रु. हो जाता है.

9. पूरे भारत के लिए वन नेशन, वन राशनकार्ड की व्यवस्था की जा रही है. 

10. देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने देश के टैक्सपेयर्स और देश के किसानों का शुक्रिया किया. पीएम ने कहा, आपने ईमानदारी से टैक्स भरा है. अपना दायित्व निभाया है इसलिए आज देश का गरीब, इतने बड़े संकट से मुकाबला कर पा रहा है. मैं आज हर गरीब के साथ, देश के हर किसान, हर टैक्सपेयर का ह्रदय से बहुत-बहुत अभिनंदन करता हूं.

पीएम मोदी ने लोगों से दो गज की दूरी और मास्क पहनने और नियमों का सख्ती से पालक करने का आग्रह किया. पीएम ने लोगों के स्वास्थ्य की कामना करते हुए भाषण का अंत किया. 

ये भी देखें...