अटल-महामना जयंती: पीएम मोदी-अमित शाह ने भारत के दोनों रत्नों को किया नमन

अटल जी और मालवीय जी की जंयती अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भारत की दोनों महान विभूतियों को शत-शत नमन किया. 

अटल-महामना जयंती: पीएम मोदी-अमित शाह ने भारत के दोनों रत्नों को किया नमन
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आज कृतज्ञ राष्ट्र अपने दो महानायकों की जंयती मना रहा है. आज भारत माता के दो रत्नों की जन्म जंयती हैं. भारत रत्न पंडित मदन मोहन मालवीय और पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिन है. अटल जी और मालवीय जी की जंयती अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भारत की दोनों महान विभूतियों को शत-शत नमन किया. पीएम मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट से अटल जी का एक वीडियो शेयर करते हुए उन्हें याद किया है. इस वीडियो पीएम मोदी की आवाज है, जिसमें वह अटल जी के व्यक्तित्व की विशेषता बता रहे हैं.

वहीं अमित शाह ने अपने ट्वीट में लिखा, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने अपनी राष्ट्रवादी सोच, बेदाग छवि और राष्ट्र समर्पित जीवन से भारतीय राजनीति में एक अमिट छाप छोड़ी. विचारधारा और सिद्धांतों पर आधारित अटल जी के जीवन में सत्ता का तनिक मात्र मोह नहीं रहा.उनके नेतृत्व में देश ने सुशासन को चरितार्थ होते देखा....

यह भी पढ़ें- अटल जल और अटल टनल योजना का शुभारंभ आज, पीएम मोदी करेंगे वाजपेयी की प्रतिमा का अनावरण

...अटल जी ने जहां एक तरफ कुशल संगठनकर्ता के रूप में पार्टी को सींचकर उसे अखिल भारतीय स्वरुप दिया वहीं दूसरी ओर देश का नेतृत्व करते हुए पोखरण परमाणु परिक्षण व कारगिल युद्ध जैसे फैसलों से भारत की एक मजबूत छवि दुनिया में बनाई. अटल जी की जन्मजयंती के अवसर पर उन्हें कोटि- कोटि वंदन.

पीएम मोदी ने भारत रत्न पंडित मदन मोहन मालवीय को याद करते हुए भी उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की.

गृह मंत्री ने भी भारत रत्न पंडित मदन मोहन मालवीय को भी उनके जन्मदिन पर याद करते हुए उन्हें भारत मां का महान सपूत बताया.

अपने ट्वीट में अमित शाह ने लिखा, 'पं मदन मोहन मालवीय जी का न सिर्फ देश की स्वतंत्रता में अद्वितीय योगदान रहा बल्कि उन्होंने देश में शिक्षा के लिए भी भागीरथ प्रयास किये.उन्होंने युवाओं की अच्छी शिक्षा के लिए काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की स्थापना करने के साथ-साथ पत्रकारिता व समाज सुधार में भी महत्ती योगदान दिया. मालवीय जी के जीवन का मूल लक्ष्य ‘राष्ट्रीय स्वतंत्रता व प्रगति’ था. वह अपने महान कार्यों के लिए पूरे देश में 'महामना' के नाम से प्रख्यात हुए. देश के युवाओं की शिक्षा व उज्जवल भविष्य के लिए अपना सम्पूर्ण जीवन अर्पित करने वाले माँ भारती के ऐसे महान सपूत की जयंती पर उनको शत-शत नमन.' 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.