PM मोदी ने वाराणसी के अस्सी घाट की सफाई की, CM अखिलेश, 8 अन्य को किया नामित

पीएम मोदी ने आज वाराणसी गंगा नदी के अस्सी घाट पर फावड़ा चलाकर 7 मिनट तक सफाई की । उन्होंने इस अवसर पर कहा कि वाराणसी के सभी घाट एक माह में साफ हो जाएंगे।  

PM मोदी ने वाराणसी के अस्सी घाट की सफाई की, CM अखिलेश, 8 अन्य को किया नामित

ज़ी मीडिया ब्यूरो/रामानुज सिंह
वाराणसी:
पीएम मोदी ने आज वाराणसी गंगा नदी के अस्सी घाट पर फावड़ा चलाकर 7 मिनट तक सफाई की । उन्होंने इस अवसर पर कहा कि वाराणसी के सभी घाट एक माह में साफ हो जाएंगे। गंगा मां के दर्शन के बाद पीएम मोदी माता आनंदमयी अस्पताल गए।

स्वच्छ भारत अभियान का अपने लोकसभा क्षेत्र वाराणसी तक प्रसार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यहां फावड़ा उठाकर गंगा नदी के घाटों के आसपास जमा गाद निकाली और उत्तर प्रदेश में स्वच्छता अभियान को आगे बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत नौ लोगों को इसकी कमान सौंपी।

प्रधानमंत्री मोदी आज यहां अस्सी घाट पहुंचे और घाट पर तीन सीढ़ियां नीचे उतरकर एक अस्थाई मंच तक गए जहां पांच पुजारी विशेष गंगा पूजा करवाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का इंतजार कर रहे थे। मोदी ने गंगा नदी की पूजा में करीब 15 मिनट का समय लगाया और उस समय वहां परिसर में लगे स्पीकरों के जरिए मंत्रोच्चारण की ध्वनि हवा में गूंज रही थी।

पार्टी प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी समेत कुछ भाजपा नेताओं तथा शहर के मेयर राम गोपाल मोहाले के साथ आए प्रधानमंत्री ने इसके बाद हाथ में फावड़ा उठाया और बारिश के मौसम के बाद घाट के समीप जमी भारी गाद निकालने के लिए खुदाई शुरू कर दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गंगा नदी के अस्सी घाट की सफाई के बाद कहा, आज यह घाट की सफाई का काम शुरू किया है। मुझे यहां के सामाजिक संगठनों ने विश्वास दिलाया है कि एक महीने में पूरा घाट साफ कर दिया जाएगा। कई वर्षों में अपने आप में सफाई के माध्यम से यह अच्छी सौगात होगी। साथ ही मोदी ने कहा कि दिल्ली में गांधी जयंती के मौके पर शुरू किए गए स्वच्छ भारत अभियान की तरह ही वह राज्य में इस अभियान को आगे बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश की नौ जानी मानी हस्तियों को यह जिम्मेदारी सौंप रहे हैं।

प्रदेश के मुख्यमंत्री के अलावा मोदी ने जिन अन्य लोगों को यह जिम्मेदारी सौंपी है उनमें भोजपुरी अभिनेता मनोज तिवारी, सूफी गायक कैलाश खेर, कामेडियन राजू श्रीवास्तव, क्रिकेटर मोहम्मद कैफ और सुरेश रैना, चित्रकूट में यूनिवर्सिटी ऑफ ब्लाइंड के चांसलर स्वामी राम भद्राचार्य, संस्कृत विद्वान देवी प्रकाश द्विवेदी तथा लेखक मनु शर्मा शामिल हैं।

अस्सी घाट के बाद प्रधानमंत्री मोदी मां श्री आनंदमयी के आश्रम के लिए रवाना हो गए। समझा जाता है कि मोदी ने आश्रम के लोगों से मुलाकात की और परिसर के भीतर स्थित एक चैरिटेबल अस्पताल का दौरा किया।

क्रिकेटर सुरेश रैना ने ट्विट कर कहा कि स्वच्छता अभियान की जुड़ना खुशी की बात है।

इससे पहले शुक्रवार को बतौर पीएम वो पहली बार काशी पहुंचे। यहां उन्होंने न सिर्फ काशी को शुक्रिया अदा किया बल्कि यहां बुनकरों को तोहफा भी दिया। वाराणसी  को विरासतों का भंडार बताते हुए मोदी ने यहां की गंगा जमुनी तहजीब का भी जिक्र किया। मोदी ने विकास के वादे भी किए।

गंगा घाट पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। आम लोगों के प्रवेश पर कुछ समय के लिए रोक दी गई थी। इस मौके पर इस अवसर पर भाजपा उत्‍तर प्रदेश के अध्‍यक्ष लक्ष्‍मीकांत वाजपेयी समेत कई भाजपा वरिष्‍ठ नेता उपस्थित थे।