TMC ने किए कई फाउल, बंगाल की जनता उनको दिखाएगी 'राम कार्ड': PM मोदी

प्पीएम नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि लोग जब दीदी से अपने अधिकारों के बारे में पूछते हैं तो वो नाराज हो जाती हैं. भारत माता के जय के नारे से भी वह नाराज हो जाती हैं.

TMC ने किए कई फाउल, बंगाल की जनता उनको दिखाएगी 'राम कार्ड': PM मोदी
ममता बनर्जी के गढ़ में पीएम मोदी ने बंगाल में केंद्र की योजनाओं का जानकारी साझा की....

हल्दिया: पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल के हल्दिया में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए सबसे पहले उत्तराखंड में हुई त्रासदी का जिक्र करते हुए वहां की जानकारी साझा की. पीएम ने अपने भाषण की शुरुआत में कहा कि उत्तराखंड के लोगों का हौसला किसी भी तरह की आपदा को मात दे सकता है. उत्तराखंड के लोगों के लिए देश प्रार्थना कर रहा है.

TMC ने किए कई फाउल: PM मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि लोग जब दीदी से अपने अधिकारों के बारे में पूछते हैं तो वो नाराज हो जाती हैं. भारत माता के जय के नारे से भी वह नाराज हो जाती हैं. ममता सरकार जब पहली बार सत्‍ता में आई तो साफ हो गया था कि बंगाल में कोई परिवर्तन नहीं होगा. यह भी स्‍पष्‍ट हो गया था कि राज्‍य में ब्‍याज के साथ लेफ्ट की वापसी हो गई है. लेफ्ट की वापसी का मतलब भ्रष्‍टाचार, अपराध, हिंसा और लोकतंत्र पर हमला से है.

पीएम मोदी ने कहा कि फुटबॉल की भाषा में कहें तो सत्‍ता में आने के बाद से टीएमसी ने एक के बाद एक फाउल किए हैं जिनमें कुशासन, हिंसा, भ्रष्‍टाचार और लोगों की आस्‍था पर हमले शामिल है. बंगाल की जनता सब देख रही है और बहुत जल्‍द ही लोग, टीएमसी को 'राम कार्ड' दिखाएंगे.

उन्‍होंने कहा कि बंगाल में हमारी लड़ाई टीएमसी से है, लेकिन इनके छूटे हुए दोस्तों से भी है. दिल्ली में लेफ्ट, कांग्रेस, टीएमसी एक कमरे में मिलते हैं और रणनीति बनाते हैं. बंगाल में लेफ्ट और तृणमूल एक दूसरे से लड़ने का दिखावा करते हैं. हमें इस धोखेबाजी का शिकार नहीं होना है.

पीएम ने कहा, 'कुछ लोग किसानों के नाम पर अपने स्वार्थ की रोटियां सेक रहे हैं. चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में बीजेपी की सरकार बनेगी. बंगाल में बीजेपी की सरकार बनते ही पहली कैबिनेट मीटिंग में बंगाल के किसानों को उनका अधिकार देंगें' 

ममता सरकार, परिवर्तन नहीं; लेफ्ट का पुर्नजीवन

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में आगे ये भी कहा, 'सूबे में पहले कांग्रेस  का  भ्रष्टाचार और फिर लेफ्ट का भ्रष्टाचार और अत्याचार चरम पर था इसलिए 2011 में लेफ्ट की हिंसा और भ्रष्टाचारा का किला ढहने के कगार पर था तो लोगों ने भरोसा किया. बंगाल, ममता की आस के साथ जी रहा था, लोगों को ममता की अपेक्षा थी, लेकिन उन्हें निर्ममता मिली. ममता सरकार, परिवर्तन नहीं बल्कि लेफ्ट का पुर्नजीवन है.'

'अधिकार की बात पूछिए तो नाराज होंगी दीदी'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा, 'भारत को बदनाम करने की अंतर्राष्ट्रीय साजिश हो रही है. भारत की चाय और योग को भी बदनाम किया जा रहा है. लेकिन इसके बावजूद पूरा देश एकजुट होकर देश के विरोधियों को जवाब दे रहा है. बंगाल में आज दीदी से अपने अधिकार की बात पूछ लेंगे तो - दीदी नाराज हो जाती हैं. भारत माता की जय बोल दो तो भी वो नाराज हो जाती हैं. लेकिन देश के खिलाफ बोलने वालों पर दीदी को गुस्सा नहीं आता है.' 

बंगाल में पुलिस-प्रशासन का राजनीतिकरण

पीएम मोदी ने कहा कि भारत सहित पूरी दुनिया के दिशा दिखाने वाले महान संतों, वीरों की पावन धरा पश्चिम बंगाल को मैं सर झुकाकर नमन करता हूं. बंगाल की इस महान धरती में सीएम ममता बनर्जी की सरकार ने पुलिस का राजनीतिकरण किया. पीएम ने ये भी कहा, ' इन लोगों ने राजनीति का भी अपराधीकरण कर दिया है. टीएमसी की सरकार केंद्र की कल्याणकारी योजनाओं में रोड़ा अटका रही है. बंगाल में आयुष्मान योजना को रोका गया. ममता सरकार ऐसी कई योजनाओं के खिलाफ खड़ी है.'

नंदीग्राम में गोली चलाने वालों को पार्टी में क्यों शामिल किया?

पीएम मोदी ने कहा कि देश हर तरह के षड़यंत्र का जवाब दे रहा है. पश्चिम बंगाल के लोगों को केंद्र की योजनाओं से जानबूध कर दूर रखा जाता है. पीएम ने दीदी के गढ़ में गरजते हुए सीएम ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा, बंगाल, तृणमूल से यह पूछना चाहता है कि जिन्होंने ने नंदीग्राम में गोलियां चलाई थी, आप उन्हें ही पार्टी में क्यों शामिल कर रही हैं. ये वो सरकार जो आपदा में भी भ्रष्टाचार के रास्ते खोजते रहती है.'

TMC सरकार पर करारा हमला

पीएम ने कहा, 'सूबे में इतना बड़ा चक्रवात आया, लोगों की मदद के लिए केंद्र सरकार ने जो पैसे भेजे, उसका इन लोगों ने क्या किया, ये बंगाल के लोग जानते हैं. कोर्ट तक को इस पर सख्त टिप्पणी करनी पड़ी थी. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के संकट में केंद्र की सरकार ने बंगाल के परिवारों के लिए मुफ्त राशन की व्यवस्था की थी. केंद्र सरकार की ओर से भेजे राशन को भी बंगाल की सरकार सही तरीके से गरीबों तक नहीं पहुंचा पाई.'

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.