close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'मिशन शक्ति': PM मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा- आपने बता दिया कि हम दुनिया में किसी से कम नहीं

पीएम मोदी ने 'मिशन शक्ति' की सफलता की बधाई देते हुए वैज्ञानिकों से कहा, 'आप सभी को बहुत बहुत बधाई आप सबका अभिनंदन.

'मिशन शक्ति': PM मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा- आपने बता दिया कि हम दुनिया में किसी से कम नहीं

नई दिल्ली: पीएम मोदी ने 'मिशन शक्ति' से जुडे वैज्ञानिकों से की बातचीत की. पीएम मोदी ने 'मिशन शक्ति' की सफलता की बधाई देते हुए वैज्ञानिकों से कहा, 'आप सभी को बहुत बहुत बधाई आप सबका अभिनंदन, आपका परिश्रम रंग लाया. आपने पूरी दुनियां को यह संदेश दे दिया है कि, 'हम भी पूरी दुनिया में किसी से कम नहीं है'. पीएम मोदी ने कहा, जो किसी का बुरा नहीं सोचता है. वह अगर शक्तिहीन हो जाएगा तो बुरा सोचने वालों की ताकत और भी बढ़ जाएगी. 

इसलिए जो किसी का बुरा नहीं सोचता उसका सबसे अधिक बलवान होना अधिक जरूरी है. पीएम मोदी ने कहा, सबसे गौरव की बात होगी जो हम सपना देख रहे हैं. हमेशा, हर क्षेत्र में 'मेड इन इंडिया' और 'मेक इन इंडिया', आप लोगों ने दुनिया को संदेश दे दिया है कि, हम भी किसी से कम नहीं है.  

भारत ने अंतरिक्ष में एंटी मिसाइल से एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराते हुए आज अपना नाम अंतरिक्ष महाशक्ति के तौर पर दर्ज करा दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह राष्ट्र के नाम संदेश में कहा था ,‘‘मिशन शक्ति के तहत स्वदेशी एंटी सैटेलाइट मिसाइल ‘ए..सैट’ से तीन मिनट में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया गया.’’ 

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत अंतरिक्ष में निचली कक्षा में लाइव सैटेलाइट को मार गिराने की क्षमता रखने वाला चौथा देश बन गया है. अब तक यह क्षमता केवल अमेरिका, रूस और चीन के ही पास थी. मोदी ने कहा कि हमने जो नई क्षमता हासिल की है, यह किसी के खिलाफ नहीं है बल्कि तेज गति से बढ़ रहे हिन्दुस्तान की रक्षात्मक पहल है.

उन्होंने वैज्ञानिकों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी. उन्होंने कहा कि इससे किसी अंतरराष्ट्रीय कानून या संधि का उल्लंघन नहीं हुआ है. भारत हमेशा से अंतरिक्ष में हथियारों की होड़ के विरूद्ध रहा है और इससे :उपग्रह मार गिराने से: देश की इस नीति में कोई परिवर्तन नहीं आया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि शांति एवं सुरक्षा का माहौल बनाने के लिए एक मजबूत भारत का निर्माण जरूरी है और हमारा उद्देश्य शांति का माहौल बनाना है, न कि युद्ध का माहौल बनाना.